लखनऊ : उत्तर प्रदेश की 14 लोकसभा सीटों के लिए पांचवें चरण में सोमवार को 57.33 प्रतिशत मतदान हुआ। मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल वेंकटेश्वर लू ने मतदान संपन्न होने के बाद बताया कि शाम 6 बजे तक 57.33 फीसदी मतदान हुआ।

उन्होंने बताया कि 2014 के चुनाव में उक्त सीटों पर 56 . 92 प्रतिशत मतदान हुआ था। पांचवें चरण के चुनाव में केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह (लखनऊ), कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (अमेठी), संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी (रायबरेली), केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (अमेठी), पूर्व केन्द्रीय मंत्री जितिन प्रसाद (धौरहरा) और पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल खत्री (फैजाबाद) जैसे दिग्गज प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला ईवीएम में बंद हो गया।

केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने ट्वीट कर आरोप लगाया कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अमेठी निर्वाचन क्षेत्र में 'बूथ कैप्चरिंग' करा रहे हैं। उन्होंने एक वीडियो भी टैग किया, जिसमें एक बुजुर्ग महिला आरोप लगा रही है कि उसकी उंगली जबरन पंजे (कांग्रेस) के निशान पर दबा दी गयी हालांकि वह कमल (भाजपा) पर वोट डालना चाहती थी ।

जब इस बाबत पूछा गया तो वेंकटेश्वर लू ने कहा कि प्रकरण की भलीभांति जांच की गयी और आरोप निराधार पाया गया। उन्होंने बताया कि अमेठी में 53 प्रतिशत मतदान हुआ।

रायबरेली में 53 . 68 प्रतिशत जबकि लखनऊ में लगभग 53 प्रतिशत मतदान हुआ। राजधानी लखनऊ में सुबह पहले मतदान करने वालों में केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, बसपा प्रमुख मायावती, उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, पुलिस महानिदेशक ओ पी सिंह और अपर मुख्य सचिव सूचना अवनीश अवस्थी शामिल रहे।

वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने उक्त 14 में से 12 सीटों पर जीत हासिल की थी। बाकी बची अमेठी और रायबरेली सीटें कांग्रेस के खाते में गयी थीं। पांचवें चरण में धौरहरा, सीतापुर, मोहनलालगंज (सुरक्षित), लखनऊ, बांदा, फतेहपुर, कौशाम्बी (सुरक्षित), बाराबंकी (सुरक्षित), फैजाबाद, बहराइच (सुरक्षित), कैसरगंज और गोण्डा सीटों पर मतदान हुआ।

दोपहर तीन बजे तक हुये मतदान

धौरहरा में 49.23 प्रतिशत, सीतापुर में 50.32 प्रतिशत, मोहनलालगंज में 48.22 प्रतिशत, लखनऊ में 43.07 प्रतिशत, रायबरेली में 42.68 प्रतिशत, अमेठी में 41.92, बांदा में 46.91, फतेहपुर में 42.44, कौशांबी में 40.37, बाराबंकी में 49.64 प्रतिशत, फैजाबाद में 46.34, बहराइच में 44.50, कैसरगंज में 43.20 तथा गोंडा में 42.67 प्रतिशत मतदान हुआ।

राजधानी लखनऊ में सुबह ही मतदान करने वालों में गृह मंत्री राजनाथ सिंह, बसपा प्रमुख मायावती, उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, पुलिस महानिदेशक ओ पी सिंह और प्रमुख सचिव सूचना अवनीश अवस्थी शामिल थे। वर्ष 2014 के पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा ने इन 14 में से 12 सीटों पर जीत हासिल की थी। बाकी बची अमेठी और रायबरेली सीटें कांग्रेस के खाते में गयी थीं।

14 में से 12 सीटों पर भाजपा ने दर्ज की थी जीत

वर्ष 2014 के पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा ने इन 14 में से 12 सीटों पर जीत हासिल की थी। बाकी बची अमेठी और रायबरेली सीटें कांग्रेस के खाते में गयी थीं। पांचवें चरण में धौरहरा, सीतापुर, मोहनलालगंज (सुरक्षित), लखनऊ, बांदा, फतेहपुर, कौशाम्बी (सुरक्षित), बाराबंकी (सुरक्षित), फैजाबाद, बहराइच (सुरक्षित), कैसरगंज और गोण्डा सीटों पर मतदान हो रहा है।

182 उम्मीदवार चुनावी मैदान में

इस चरण में करीब दो करोड़ 47 लाख मतदाता कुल 182 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला कर रहे हैं। सपा-बसपा-रालोद गठबंधन ने अमेठी और रायबरेली सीटों पर अपने प्रत्याशी नहीं उतारे हैं। पांचवें चरण के चुनाव में केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह (लखनऊ), कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (अमेठी), संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी (रायबरेली), केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (अमेठी), पूर्व केन्द्रीय मंत्री जितिन प्रसाद (धौरहरा) और पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल खत्री (फैजाबाद) जैसे छत्रपों की प्रतिष्ठा दांव पर है।

यह भी पढ़ें :

निरहुआ ने बीच चुनाव दिया बड़ा बयान, इस शर्त पर करूंगा अखिलेश यादव का समर्थन

बाहुबली नेता राजा भैया के खिलाफ एक्शन, पांचवें चरण के मतदान के दौरान रहेंगे नजरबंद

इन सीटों पर खास नजर

राजनाथ लखनऊ सीट से एक बार फिर संसद पहुंचने की कोशिश में हैं, वहीं उनकी मंत्रिमण्डलीय सहयोगी स्मृति ईरानी नेहरू-गांधी परिवार के दुर्ग यानी अमेठी को भेदने के लिये पूरा जोर लगा रही हैं। पूर्व केन्द्रीय मंत्री जितिन प्रसाद एक बार फिर धौरहरा सीट से मैदान में हैं। इसी सीट से कभी चम्बल के कुख्यात डकैत रहे मलखान सिंह को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी ने अपना उम्मीदवार बनाया है।