प्रियंका गांधी का खुलासा, बताया क्यों नहीं लड़ा मोदी के खिलाफ वाराणसी से चुनाव

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (फाइल फोटो) - Sakshi Samachar

नई दिल्ली : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने वाराणसी सीट से चुनाव क्यों नहीं लड़ा, इस सवाल का जवाब पिछले कई दिनों से सभी जानना चाहते थे। हालांकि आज खुद प्रियंका ने खुलासा किया कि उन्होंने मोदी के खिलाफ चुनाव क्यों नहीं लड़ा।

प्रियंका गांधी ने कहा कि एक जगह रहकर सभी जगह प्रचार करना संभव नहीं हो सकता था। प्रदेश की 41 सीटों पर हमे ध्यान देना है और जीतना है। ऐसे में सिर्फ वाराणसी तक सीमित रहकर यह करना मुश्किल था। इस वजह से मैंने चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया।

प्रियंका गांधी ने कहा कि उनके ऊपर पूरे प्रदेश की जिम्मेदारी है। सिर्फ वाराणसी के चुनाव पर केंद्रित होकर राजनीति नहीं की जा सकती थी।

कांग्रेस उम्मीदवार अजय राय एवं पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

इससे पहले लोकसभा चुनाव के दौरान इसको लेकर एक प्रकार का रोमांचक संशय बना दिया गया था। ऐसी अटकलें थीं कि कांग्रेस प्रधानमंत्री के खिलाफ प्रियंका को उतार सकती है। बहरहाल, कांग्रेस ने अजय राय को फिर से उम्मीदवार घोषित किया जो इस सीट पर पिछले लोकसभा चुनाव में तीसरे स्थान पर रहे थे।

इस फैसले के बाद से ही राजनीतिक हलकों में तमाम तरह के कयासों को दौर तेज हो गया था। सभी कह रहे थे कि मोदी की लोकप्रियता को देखते हुए कांग्रेस ने यह फैसला किया था।

यह भी पढ़ें :

सोशल मीडिया पर राहुल गांधी का बना ‘मजाक’, देखें कैसे ट्रांसलेटर ने बढ़ाई मुश्किल

राहुल-प्रियंका का यह वीडियो सोशल मीडिया पर छाया, बताया क्या है अच्छे भाई का मतलब

वाराणसी से प्रियंका गांधी वाड्रा के चुनाव लड़ने की अटकलों के बीच अजय राय को कांग्रेस उम्मीदवार बनाने पर वित्त मंत्री अरुण जेटली के कटाक्ष को लेकर कांग्रेस ने शुक्रवार को पलटवार करते हुए कहा था कि जेटली के बयान से साफ है कि भाजपा डरी हुई थी कि कहीं प्रियंका को नरेंद्र मोदी के खिलाफ उम्मीदवार न घोषित कर दिया जाए।

जेटली के बयान के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ वित्त मंत्री जी निराश हैं, प्रधानमंत्री जी खुद ही निराश हैं। निराशा का माहौल पूरे भाजपा में चल रहा है। जहाँ तक प्रियंका जी का सवाल है, तो इसका (जेटली के बयान) मतलब साफ है कि वे बहुत डरे हुए थे।''

उन्होंने कहा, ‘‘पहले प्रियंका जी ने कहा था कि मैं तो बनारस से लड़ना चाहती हूं, लेकिन ये फैसला कांग्रेस अध्यक्ष तय करेंगे कि हमें लड़ना है या नहीं लड़ना है। पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने हमारे पुराने उम्मीदवार अजय राय को टिकट दिया क्योंकि उन्होंने चुनाव क्षेत्र में पांच साल काफी मेहनत की है।''

Advertisement
Back to Top