नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी से अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। पीएम के नामांकन में एक चौकीदार, डोमराजा परिवार के जगदीश चौधरी , सांइटिस्ट रमाशंकर पटेल, पाणिनी कॉलेज की प्रिंसिपल नंदिता शास्त्री और एक कोई चौकीदार प्रस्तावक के तौर पर मौजूद थे। नामांकन के दौरान एनडीए के तमाम बड़े दिग्गज नेता नीतिश कुमार, सुषमा स्वराज, नितिन गडरी, रामविलास पासवान, उद्दव ठाकरे प्रकाश सिंह बादल , अनुप्रिया पटेल जैसे तमाम बड़े नेता डीएम दफ्तर में मौजूद थे।

नामांकन से पहले मोदी ने की कालभैरव की पूजा

इससे पहले उन्होंने भगवान काल भैरव कें मंदिर में पूजा अर्चना की। मंदिर पहुंचते ही वहां मौजूद लोगों ने उन पर गुलाब की पंखुड़ियों से स्वागत किया। इस दौरान उनकी आगवानी के लिए सीएम योगी और प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र पाण्डेय मौजूद थे।

बूथ कार्यकर्ताओं को किया संबोधित

पूजा से पहले पीएम ने बूथ प्रमुखों और पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि मैं भी बूथ कार्यकर्ता रहा हूं । मुझे भी दिवारों पर पोस्टर लगाने का सौभाग्य मिला। आज इस मंच के माध्यम से मैं आपको और देश के सभी नागरिकों को और सभी कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त करता हूं

पोलिंग बूथ जीतना बाकी

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यहां कार्यकर्ताओं से बताया कि काशी जीतने का काम कल ही पूरा हो चुका है, अब हमें पोलिंग बूथ जीतना है। मोदी हारे या जीते वो गंगा मैया देख लेगी, लेकिन मेरे बूथ का कार्यकर्ता नहीं हारना चाहिए। हमारा लक्ष्य पोलिंग बूथ जीतना होना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस बार हमें मतदान के सभी रिकॉर्ड तोड़ देने हैं, मोदी कितने वोट से जीते ये मायने नहीं रखता।

देश में लोग खुद कह रहे एक बार फिर मोदी सरकार : पीएम

उन्होंने यह भी कहा कि आज देश में लोग खुद कह रहे हैं कि फिर एक बार मोदी सरकार। इस बार पॉलिटकल पंडितों को काफी माथापच्ची करनी पड़ेगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं पिछले डेढ़ महीने से देश का भ्रमण कर रहा हूं, मैं-अमित शाह-योगी सब कार्यकर्ता निमित हैं, इस बार चुनाव देश की जनता ही लड़ रही है। पहली बार लोगों ने देखा कि सरकार चलती भी है।

पीएम ने कहा कि मैंने कभी ऐसा नहीं कहा कि अब मैं पीएम, पार्टी को समय नहीं दे पाऊंगा। उन्होंने कहा कि 5 साल में एक कार्यकर्ता के नाते पार्टी ने जितना भी समय मांगा तो मैंने मना नहीं किया। कार्यसमिति की बैठक में भी मैं बतौर कार्यकर्ता पूरा समय बैठा।

हम एक ग्वाले की तरह हैं, जो भारत माता की सेवा कर रहे हैं

उन्होंने कहा कि मैं पीएम, सांसद और कार्यकर्ता के नेता के तौर पर जिम्मेदारी निभाई है।प्रधानमंत्री ने कहा कि हम एक ग्वाले की तरह हैं, जो भारत माता की सेवा कर रहे हैं. पीएम बोले कि ये चुनाव सिर्फ मोदी नहीं लड़ रहा है, बल्कि ग्वाले लड़ रहे हैं।

पीएम ने किया भावुक ट्वीट

इस दौरान उन्होंने एक भावुक ट्वीट किया है। ट्वीट में उन्होंने कहा है कि बाबा विश्वनाथ की मर्जी के बिना कुछ हो सकता है क्या?

वहीं दूसरी ओर सभी एनडीए नेताओं ने एक बैठक में हिस्सा लेते दिखाई दिए।

इसे भी पढ़ें

काशी में रोड शो के बाद पीएम मोदी ने की गंगा आरती, कल भरेंगे नामांकन

इससे पहले कल एक मेगा रोडशो किया । रोडशो से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मदनमोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इस दौरान पीएम मोदी पर गुलाब के फूल बरसाए गए। पीएम मोदी हाथ हिला कर सबका अभिवादन किये। बीच-बीच में बरसाए गए गुलाब के फूलों को जनता की तरफ उछाल कर अपना प्रेम दिखा रहे थे।

भगवान भोलेनाथ की नगरी काशी में पीएम मोदी रोड शो के बाद दशाश्वमेध घाट पर गंगा आरती में शामिल हुए। गंगा आरती में पीएम मोदी पूरे विधि विधान के साथ शामिल हुए। करीब आधे घंटे के इस विधान में वो खुद मंत्रोच्चार करते हुए नजर आए।

दशाश्वमेध घाट पर गंगा आरती में शामिल होने से पहले पीएम मोदी ने ट्वीट कर बताया है कि उनका सौभाग्य है कि वो गंगा आरती में शामिल हो रहे हैं।