गाजियाबाद : लोकसभा 2019 के लिए सभी दलों की तैयारियां जोरो-शोरों पर हैं और आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी जारी है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज गाजियाबाद में हैंं जहां उन्होंने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस के लोग आतंकवादियों को बिरियानी खिलाते हैं और मोदी जी की सेना आतंकवादियों को गोली और गोला देती है।

उन्होंने आगे बोलते कहा कि कांग्रेस के लोग मसूद अजहर आतंकवादियों को 'जी' लगाकर उन्हें संबोधित करते हैं और आतंकवाद को प्रोत्साहित करते हैं।

इसे भी पढ़ें :

यूपी के एक और शहर का नाम बदलने की तैयारी, राज्यपाल ने योगी को लिखा पत्र

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने कहा था कि राम और कृष्ण का अस्तित्व नहीं है। मैं कांग्रेस नेताओं से पूछना चाहता हूं कि वे एक मंदिर से दूसरे मंदिर में जाकर क्या देखना चाहते हैं? यह पाखंड क्यों?

योगी ने कहा कि अयोध्या को लेकर प्रियंका वाड्रा का बयान है कि, 'हर जगह हिंदुओं का अपमान है। उनसे पूछा गया कि जब वह अयोध्या गईं थी तो राम जन्मभूमि क्यों नहीं गईं थी? तब उन्होंने कहा कि यह विवादित जमीन है, इसलिए उन्होंने ऐसा नहीं किया। वह वहां नहीं गईं क्योंकि इससे एक विशेष समुदाय परेशान होगा।

साथ ही इस चुनावी जनसभा के दौरान मुख्यमंत्री योगी को पश्चिमी उत्तर प्रदेश में खंड पीठ की स्थापना के मुद्दे पर काले झंडे दिखाने जा रहे वकीलों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया गया।

बार एसोसिएशन के सचिव विश्वास त्यागी ने कहा कि वकील लंबे समय से खंड पीठ की स्थापना के मुद्दे पर भाजपा के सांसद, विधायकों से मुलाकात का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन किसी ने भी समय नहीं दिया।

उन्होंने कहा कि वकीलों ने किसी तरह की सुनवायी ना होने की स्थिति में मुख्यमंत्री के गाजियाबाद आने पर काले झंडे दिखाने का ऐलान किया था। कचहरी परिसर से वकील एकत्र होकर निकले ही थे कि एसएसपी दफ्तर के नजदीक उन्हें हिरासत में ले लिया गया।