चेन्नईः तमिलनाडु में सत्तारूढ़ ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (अन्नाद्रमुक) व पट्टल मक्कल काची (पीएमके) ने मंगलवार को आगामी लोकसभा चुनाव के लिए चुनावी गठबंधन पर मुहर लगा दी। सहमति के तहत पीएमके सात संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में व राज्यसभा की एक सीट पर चुनाव लड़ेगी।

अन्नाद्रमुक समन्वयक व उप मुख्यमंत्री ओ.पन्नीरसेल्वम ने दी जानकारी

चुनाव गठबंधन समझौते पर हस्ताक्षर के बाद संवाददाताओं से बातचीत में पन्नीरसेल्वम ने कहा, "2019 के लोकसभा चुनावों के लिए अन्नाद्रमुक की अगुवाई वाले गठबंधन के तहत पीएमके को सात लोकसभा सीटें मिली हैं। पीएमके को एक राज्यसभा सीट भी मिलेगी।"

पन्नीरसेल्वम ने कहा, "पीएमके 21 निर्वाचन क्षेत्रों में होने वाले विधानसभा उप चुनावों में अन्नाद्रमुक को समर्थन देगी।" पीएमके संस्थापक एस.रामदॉस ने संवाददाताओं से कहा, "यह एक बड़ा व मजबूत गठबंधन है जो लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करेगा।"

पार्टी ने रखी कई शर्तें अन्नाद्रमुक करेगी पूरा

रामदॉस ने कहा कि अन्नाद्रमुक से किए गए आग्रह में, कावेरी डेल्टा क्षेत्र को संरक्षित क्षेत्र घोषित करने, पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या मामले में दोषी करार दिए गए सात लोगों को रिहा करने, सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना का क्रियान्वयन करने, कर्नाटक को मेकादातू में कावेरी पर बांध बनाने से रोकने, किसानों की कर्जमाफी व सामान्य मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट से राज्य को छूट देने पर कदम उठाना शामिल है।"

इसे भी पढ़ेंः

वाराणसी में मोदी: वन्दे भारत एक्सप्रेस का मजाक उड़ाना दुखद : मोदी

इससे पहले पन्नीरसेल्वम व अन्नाद्रमुक संयुक्त समन्वयक व मुख्यमंत्री के.पलनीस्वामी ने पीएमके संस्थापक एस.रामदॉस का होटल के पोर्टिको में स्वागत किया व अपने साथ अंदर ले गए।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक नेता ने नाम नहीं जाहिर करने की शर्त पर आईएएनएस से कहा, "भाजपा का अन्नाद्रमुक के साथ गठबंधन तय है।" भाजपा नेता ने कहा कि अन्नाद्रमुक के साथ गठबंधन को मंगलवार को अंतिम रूप दे दिया जाएगा क्योंकि यह एक शुभ दिन है।