कोलकाता : पश्चिम बंगाल में जारी सियासत के दंगल के बीच कांग्रेस ने स्पष्ट कर दिया है कि लोकसभा चुनाव 2019 के लिए वह राज्य में तृणमूल कांग्रेस से किसी भी प्रकार से गठबंधन नहीं करेगी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी इस बात पर सहमति जताई है।

पश्चिम बंगाल कांग्रेस के अध्यक्ष सोमेन मित्रा ने शनिवार को कहा कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी आगामी संसदीय चुनाव में राज्य में तृणमूल कांग्रेस के साथ कोई गठबंधन नहीं करने की प्रदेश इकाई की राय से सहमत हैं।

मित्रा ने नयी दिल्ली में कहा, ‘‘हमारे पार्टी अध्यक्ष हमारी इस राय से राजी हैं कि तृणमूल कांग्रेस के साथ गठबंधन करना राज्य में पार्टी के लिए त्रासदी होगी क्योंकि यह तृणमूल ही है जिसकी वजह से भाजपा बंगाल में अपनी जड़ें जमा रही है। राहुल गांधी ने हमसे अपनी रणनीति तैयार करने को कहा। उन्होंने हमसे कहा है कि वह इससे सहमत होंगे।''

यह भी पढ़ें :

“BJP है आतंकी संगठन”, ममता बनर्जी का बड़ा आरोप

गिरिराज का विवादित बयान, ममता बनर्जी को बताया ‘पूतना’

जब उनसे पूछा गया कि क्या इससे राज्य में माकपा की अगुवाई वाले वाममोर्चा के साथ गठबंधन करने के द्वार खुलेंगे तब उन्होंने कहा, ‘‘हम वाम समेत धर्मनिरपेक्ष और लोकतांत्रिक ताकतों के साथ बात करेंगे। लेकिन बातचीत शुरू करने से पहले हम अपनी पार्टी के अंदर इस मामले पर चर्चा करेंगे।''

बता दें राहुल गांधी ने लोकसभा के लिए पार्टी की तैयारी की समीक्षा करने के लिए शनिवार को दिल्ली में प्रदेश कांग्रेस प्रमुखों और कांग्रेस विधायक दलों के नेताओं के साथ एक बैठक की।