नई दिल्ली : केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली अमेरिका में चार सप्ताह बिताने के बाद शनिवार को भारत लौट आए। जेटली इलाज के लिए अमेरिका गए थे। अरुण जेटली ने एक ट्वीट में कहा, "घर लौटकर खुश हूं।" उनकी गैरमौजूदगी में रेल मंत्री पीयूष गोयल को अस्थायी तौर पर वित्त मंत्रालय का प्रभार सौंपा गया था।

एक फरवरी को जब गोयल ने अंतरिम बजट पेश किया था तब जेटली ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए संवाददाताओं को बताया था कि वह ठीक हो रहे हैं और जल्द ही लौटेंगे। सर्जरी से स्वस्थ हुए 66 वर्षीय जेटली ने नरेंद्र मोदी सरकार के पिछले पांच बजट पेश किए हैं।

जेटली के अमेरिका रवाना होने के 10 दिन बाद 23 जनवरी को गोयल को वित्त मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया था।

यह भी पढ़ें :

“अरुण जेटली ने मुझे गाली दी”, -राफेल मुद्दे पर वित्त मंत्री के बयान से बिफरे राहुल गांधी

पीयूष गोयल को वित्त मंत्रालय का प्रभार, बिना पोर्टफोलियो के मंत्री बने रहेंगे अरुण जेटली

भारत के राष्ट्रपति द्वारा दिए गए दिशानिर्देशों के मुताबिक, अरुण जेटली की अस्वस्थता अवधि के दौरान गोयल अस्थायी तौर पर वित्त व कॉरपोरेट मामलों का प्रभार संभालना जारी रखेंगे। जेटली कब काम फिर से शुरू करेंगे, इस बात की पुष्टि नहीं की गई है।

जेटली की 14 मई, 2018 को गुर्दे की प्रत्यारोपण सर्जरी हुई थी। उनकी अनुपस्थिति में गोयल को 14 मई से 22 अगस्त 2018 के बीच भी वित्त मंत्रालय का प्रभार सौंपा गया था।

-आईएएनएस