लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुंभ मेले में कैबिनेट की बैठक करके यह संदेश देने की कोशिश की है कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार राज्य के अलग-अलग इलाकों में जाकर भी कैबिनेट की बैठक कर सकती है। इसके लिए कोई यह बाध्यता नहीं है कि सारी बैठक लखनऊ या सचिवालय परिसर में ही की जाय।

माना जा रहा है कि जल्द ही कैबिनेट बैठकों को अन्य जिलों में आयोजित करने की योजना बनाई जाएगी और इसे प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में आयोजित करने की कोशिश की जाएगी।

इस मामले पर बोलते हुए राज्य सरकार के मंत्री सत्यदेव पचौरी ने कहा कि प्रयागराज की ही तरह काशी और अयोध्या में भी कैबिनेट की बैठक हो सकती है।

इसे भी पढ़ें :

‘मेरठ से प्रयागराज तक बनेगा गंगा एक्सप्रेस-वे’, कुंभ से योगी कैबिनेट का बड़ा एलान

सरकार समय आने पर इसके लिए जरूर पहल करेगी। आपको बता दें कि योगी सरकार की इस तरह की पहल से साफ संदेश से जाएगा कि हिंदू धार्मिक आस्था वाले धार्मिक केंद्रों के लिए राज्य सरकार कितनी संवेदनशील है और उनकी उनके लिए अलग से मेहनत कर रही है।

राम मंदिर का मामला सुप्रीम कोर्ट में लंबित होने के कारण हिंदू आस्था से पार्टी में जुड़े लोगों को खुश करने के लिए सरकार प्रयागराज के बाद काशी और अयोध्या में भी कैबिनेट की बैठक कर सकती हैं।