मुंबई : महाराष्ट्र कांग्रेस संसदीय बोर्ड की यहां मंगलवार से शुरू हो रही दो दिवसीय बैठक के दौरान लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी से उम्मीदवारों के नामों को अंतिम रूप दिए जाने की उम्मीद है।

पार्टी सूत्रों ने बताया कि संसदीय बोर्ड द्वारा मराठवाड़ा, उत्तर महाराष्ट्र, पश्चिम महाराष्ट्र से उम्मीदवारों की सूची को मंगलवार को अंतिम रूप दिए जाने की उम्मीद है।

सूत्रों के अनुसार प्रदेश की कुल 48 सीटों में से कांग्रेस के 26 पर और राकांपा के 22 सीटों पर उम्मीदवार उतारे जाने की संभावना है। कांग्रेस बोर्ड की बैठक में राज्य की सीटों पर प्रत्याशियों के नामों पर भी चर्चा होगी।

पार्टी सूत्रों के अनुसार पहले दिन दिन मराठवाड़ा, उत्तरी महाराष्ट्र और पश्चिमी महाराष्ट्र की सीटों के लिए नामों की सूची को अंतिम रूप दिया जा सकता है। वहीं विदर्भ और मुंबई के लिए नाम बैठक के दूसरे दिन 30 जनवरी को तय किए जाएंगे।

इसे भी पढ़ें :

राजस्थान में ‘मिशन 25’ में जुटी कांग्रेस, 20 फरवरी तक कर सकती है उम्मीदवारों की घोषणा

महाराष्ट्र मंत्रिमंडल ने बाल ठाकरे के स्मारक के लिए दी 100 करोड़ की मंजूरी

सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस और शरद पवार नीत राकांपा तथा अन्य दलों के बीच सीट बंटवारे को लेकर वार्ता तकरीबन पूरी हो गई है और जल्द ही निष्कर्ष आ जाएगा। उन्होंने बताया कि कांग्रेस के चुनाव अभियान के तहत पार्टी के नेता फरवरी में कम से कम 50 बैठकें करेंगे और राज्य के उन जिलों में भी जाएंगे, जिन्हें पार्टी की जन संघर्ष यात्रा के तहत कवर नहीं किया जा सकेगा।

कांग्रेस, राकांपा और राजू शेट्टी की स्वाभिमानी शेतकारी संगठन गठबंधन के लिए सहमत हो गए हैं जबकि प्रकाश आंबेडकर की भारिप बहुजन महासंघ और समाजवादी पार्टी अब तक इसमें इसमें शामिल नहीं हुई है।

राज्य में लोकसभा की कुल 48 सीटें हैं। कांग्रेस और राकांपा के बीच अब तक अहमदनगर, नंदूरबार, रावेर, जालना, औरंगाबाद और रत्नागिरि-सिंधुदुर्ग पर कोई समझौता नहीं हुआ है। इन सीटों में रावेर और अहमदनगर पर राकांपा परंपरागत रूप से चुनाव लड़ती रही है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और राकांपा प्रमुख शरद पवार के बीच वार्ता के बाद राकांपा ने पुणे और यवतमाल-वाशिम सीटों पर अपना दावा छोड़ दिया है। सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस के 26 जबकि राकांपा के 22 सीटों पर चुनाव लड़ने की संभावना है।