मनमोहन को फिर राज्यसभा भेजना चाहती हैं सोनिया, इस कांग्रेसी नेता को देना होगा इस्तीफा

मनमोहन सिंह एवं सोनिया गांधी (फाइल फोटो) - Sakshi Samachar

नई दिल्ली : पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और उनका कार्यकाल भले ही सवालों के घेरे में रहता है, लेकिन कांग्रेस में उनकी अहमियत का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि अभी भी उन्हें राज्यसभा भेजने की तैयारी चल रही है। मनमोहन सिंह असम से राज्यसभा सांसद हैं और 14 जून को उनकी सदस्यता समाप्त हो रही है। हालांकि कांग्रेस उन्हें फिर से उच्च सदन भेजना चाहती है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी चाहती हैं कि राज्यसभा में पार्टी को मनमोहन सिंह के अनुभव का लाभ मिलता रहे। इसलिए सोनिया मनमोहन सिंह फिर से राज्यसभा भेजने की तरफदारी कर रही हैं। इन सब के बीच एक मुश्किल जरूर कांग्रेस के लिए आ रही है। आखिर मनमोहन को कैसे राज्यसभा भेजा जाए।

असम से नहीं जा सकेंगे दोबारा राज्यसभा

दरअसल, मनमोहन सिंह असम का राज्यसभा में प्रतिनिधित्व करते हैं। मुश्किल यह है कि असम में कांग्रेस विधायकों की संख्या बेहद कम है। ऐसे में संख्याबल के मुताबिक, मनमोहन को राज्यसभा तक पहुंचाने में कांग्रेस समर्थ नहीं है। इसलिए मनमोहन सिंह को किसी अन्य जगह से उच्च सदन भेजा जा सकता है।

यह भी पढ़ें :

कांग्रेस के लिए बेहद ‘भाग्यशाली’ साबित होगा सपा-बसपा गठबंधन, जानिए कैसे

सपा-बसपा गठबंधन पर बोले राहुल, यूपी में पूरी क्षमता के साथ चुनाव लड़ेगी कांग्रेस

अंबिका सोनी छोड़ सकती हैं सदस्यता

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सांसद अंबिका सोनी अपनी राज्यसभा सदस्यता से इस्तीफा दे सकती हैं, जिनकी जगह मनमोहन सिंह को उच्च सदन भेजा जा सकता है। इस तरह मनमोहन सिंह अंबिका सोनी के बचे हुए तीन साल के कार्यकाल को पूरा करेंगे। हालांकि इसके लिए अंबिका सोनी को लोकसभा चुनाव में उतारा जा सकता है। अनुमान है कि उन्हें आनंदपुर साहिब से कांग्रेस की लोकसभा उम्मीदवार बनाया जा सकता है।

Advertisement
Back to Top