लखनऊ : लोकसभा चुनाव से पूर्व उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा गठबंधन लगभग तय है, जिसकी जानकारी शनिवार को दोनों ही पार्टियों के प्रमुख एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान देंगे। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती और समाजवादी पार्टी (सपा) प्रमुख अखिलेश यादव शनिवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में संयुक्त संवाददाता सम्मेलन करेंगे। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

जानकारी के अनुसार, इस प्रेस निमंत्रण पर सपा के राष्ट्रीय महासचिव राजेंद्र चौधरी और बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने संयुक्त हस्ताक्षर किए हैं। यह संयुक्त संवाददाता सम्मेलन पांच सितारा होटल ताज में आयोजित होगा।

सूत्रों ने बताया कि दोनों दलों के बीच खाका तैयार होने के साथ शीर्ष नेता आगामी लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन का ऐलान कर सकते हैं। इसके साथ ही सीटों का ऐलान भी हो सकता है। सूत्रों ने कहा कि खनन घोटाले और गठबंधन पर इसके प्रभाव को आंका जाना बाकी है। यह समझौता लगभग पूरा हो चुका है।

यह भी पढ़ें :

सपा-बसपा गठबंधन : जानिए किस पार्टी के खाते में जाएगी कौन सी सीट !

कांग्रेस के लिए बेहद ‘भाग्यशाली’ साबित होगा सपा-बसपा गठबंधन, जानिए कैसे

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि एसपी और बीएसपी 37-37 सीटों को साझा करेंगे, जबकि वे अजीत सिंह के राष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) के लिए दो सीटें छोड़ देंगे। यह गठबंधन कांग्रेस के लिए अमेठी और रायबरेली इन दो सीटें को भी छोड़ सकता है।

-आईएएनएस