मुलायम सिंह की अखिलेश को झिड़की, और तैयारी करने की दी सलाह 

मुलायम सिंह और अखिलेश यादव  - Sakshi Samachar

लखनऊ : समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने नए साल पर अपने बेटे अखिलेश यादव को नसीहत दी कि उनके ऊपर बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। वह इसे ठीक से निभाएं। अभी वह ठीक से जिम्मेदारी नहीं निभा रहे हैं। साथ ही उन्होंने पार्टी नेताओं को आईना दिखाया। मुलायम सिंह ने कहा कि भाजपा से मुकाबले के लिए सपा को और तैयारी करनी चाहिए। भाजपा ने अधिक तैयारी की है।

मुलायम सिंह ने कहा कि उनकी पार्टी में महिलाओं को अधिक जिमेदारी दी जानी चाहिए। एक महिला के जुड़ने से पूरा परिवार जुड़ता है। उन्होंने कहा कि वह खुद भी पार्टी के कार्यक्रमों में हिस्सा लेने जाएंगे। कार्यकर्ता जहां भी कार्यक्रम बनाएंगे, वह पहुंचेंगे। मुलायम सिंह ने कहा कि सपा के अपने वोट भी पड़ गए तो जीत पक्की है।

वहीं, अखिलेश यादव ने नववर्ष की बधाई देते हुए कहा कि सपा नौजवानों की पार्टी है। नौजवान ही परिवर्तन के ध्वजवाहक होते हैं। वे ही फिर सत्ता परिवर्तन करेंगे। उन्होंने कहा कि आज तारीख बदली है तो लोग उतना खुश हैं। जिस दिन भाजपा सरकार बदल गई, लोगों की खुशी का कितना असर होगा, आप कल्पना कर सकते है।

इसे भी पढ़ें :

मुलायम सिंह सपा के टिकट पर नहीं लड़ेंगे चुनाव, शिवपाल की नई पेशकश

प्रधानमंत्री बनने का ख्वाब नहीं पाल रहा मैं : अखिलेश यादव

भाजपा को निशाने पर लेते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि लोकतंत्र में झूठ बोलना, धोखा देना भ्रष्टाचार है। दिल्ली से झूठ चला जो लखनऊ तक पहुंचा गया। पूरे देश में झूठ पर झूठ का विस्तार हो रहा है।

उन्होंने कहा कि समाज में नफरत और खाई पैदा करने के लिए भाजपा जिम्मेदार है। जनता को मूल मुद्दों से भटका कर वह सत्ता में आई है। अब जनता भाजपा के झूठ से मुक्ति चाहती है।

इसी बीच युवाओं ने अखिलेश जिंदाबाद के नारे लगाने शुरू किए तो मुलायम को गुस्सा आ गया। उन्होंने युवाओं को डांटा कि हम तुम्हें अच्छी बात सिखा रहे हैं, तो शोर कर रहे हो। जब नेता अच्छी बात करे तो ताली पीटो, नारे लगाकर तो सबको डिस्टर्ब करते हो। इसके बाद कार्यकर्ताओं की ओर से धरती पुत्र मुलायम सिंह यादव जिंदाबाद के नारे लगाए जाने लगे।

Advertisement
Back to Top