नई दिल्ली: राष्ट्रीय स्तर पर भाजपा से टक्कर देने के लिए महागठबंधन और फेडरल फ्रंट बनाने का प्रयास किया जा रहा है। इस प्रयास पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तंज कसा है। उन्होंने कहा कि सिद्धांत रहित पार्टियां गठबंधन बना कर भाजपा को टक्कर देने का प्रयास कर रही हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा का अपना एक सिद्धांत है। वह जन कल्याण और राष्ट्र विकास को प्राथमिकता देती है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018 में प्रजा कूटमी (प्रजा गठबंधन) बनाया गया, लेकिन इस गठबंधन को चारों खाने चित होना पड़ा। कांग्रसे के नेतृत्व बने इस गठबंधन को करारी हार का सामना करना पड़ा। गठबंधन के माध्यम से तेलंगाना में सत्तारूढ़ होने का चंद्रबाबू का सपना चकनाचूर हो गया।

इसे भी पढ़ें:

मैं, कल्वाकुंट्ला चंद्रशेखर राव मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेता हूं...

साल के पहले दिन मीडिया से रूबरू हुए प्रधानमंत्री मोदी, जानें क्या-क्या बोलें

नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि चंद्रबाबू तेलंगाना में राजनीति में असफल रहे। चंद्रबाबू को तेलंगाना की राजनीति में हार का झटका लगा। अपने पार्टी सिद्धांत को परे रख कर चंद्रबाबू ने कांग्रेस के साथ गठबंधन बनाया। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि KCR के फेडरल फ्रंट की जानकारी उन्हें नहीं है। उन्होंने KCR के माध्यम से फेडरल फ्रंट बनाने का परोक्ष रूप कभी प्रयास नहीं किया है।