जयपुर : राजस्थान की राजनीति में भले ही इन दिनों उठापटक जारी है, सीएम पद को लेकर अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच लंबे समय तक सहमति नहीं बनी, लेकिन इन सब के बीच जो एक नाम और चर्चा में है, वो है सचिन पायलट की पत्नी सारा पायलट का, जिन्होंने पति सचिन के डिप्टी सीएम बनने की घोषणा के साथ एक खास रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज करा लिया है।

दरअसल, यह रिकॉर्ड बेहद खास है। सचिन पायलट के डिप्टी सीएम पद की शपथ लेते ही उनके नाम यह रिकॉर्ड दर्ज हो जाएगा। सारा पायलट देश की ऐसी इकलौती महिला होंगी, जिनके पति, दादा, पिता और भाई के नाम से मुख्यमंत्री का शब्द जुड़ा होगा।

पिता फारुख अब्दुल्लाह एवं पति सचिन पायलट के साथ सारा (फाइल फोटो)
पिता फारुख अब्दुल्लाह एवं पति सचिन पायलट के साथ सारा (फाइल फोटो)

सारा पायलट के दादा शेख अब्दुल्लाह, पिता फारुख अब्दुल्लाह, भाई उमर अब्दुल्लाह और फूफा गुलाम मोहम्मद शाह जम्मू-कश्मीर के सीएम रह चुके हैं।

यह भी पढ़ें :

‘CM इन वेटिंग’ : चेहरे पर बयां होता दिल का दर्द, इन वीडियो को जरूर देखें पता चलेगी हकीकत

PK ने भाजपा को दिया जीत का मंत्र, कहा- इस तरह फिर मोदीमय होगा 2019 का लोकसभा चुनाव

फारुख अब्दुल्लाह (बीच में), उमर अब्दुल्लाह एवं सचिन पायलट (फाइल फोटो)
फारुख अब्दुल्लाह (बीच में), उमर अब्दुल्लाह एवं सचिन पायलट (फाइल फोटो)

सचिन पायलट के डिप्टी सीएम बनते ही इस सूची में उनके पति का नाम भी शामिल हो जाएगा। वैसे राजस्थान में पायलट के समर्थकों की मांग थी कि उन्हें गहलोत की जगह सीएम बनाया जाए, लेकिन कांग्रेस आलाकमान ने पायलट को डिप्टी सीएम पद ही सौंपा है।

गौरतलब है कि सचिन और सारा की मुलाकात लंदन में पढ़ाई के दौरान हुई थी। उसी वक्त दोनों काफी अच्छे दोस्त बन गए और बाद में शादी की। हालांकि उनकी शादी को लेकर विवाद भी हुए थे, पर आज दोनों की शादी सफल कही जाती है।