आइजोल : मिजोरम विधानसभा चुनाव से तीन दिन पहले मुख्यमंत्री लल थनहावला ने रविवार को कहा कि यदि चुनावों के बाद सत्ताधारी कांग्रेस को बहुमत नहीं मिल पाता है तो वह भाजपा एवं एमएनएफ को छोड़कर समान विचारधारा वाली पार्टियों के साथ गठबंधन को लेकर खुला रुख अपनाएगी।

 मुख्यमंत्री लल थनहावला। फाइल फोटो
मुख्यमंत्री लल थनहावला। फाइल फोटो

बहरहाल, उन्होंने दावा किया कि ऐसी स्थिति पैदा नहीं होगी क्योंकि कांग्रेस को अपने दम पर पूर्ण बहुमत मिल जाएगा। मिजोरम में सरकार बनाने के लिए 21 विधायकों की जरूरत होती है। राज्य विधानसभा में कुल 40 सीटें हैं। मिजोरम में 28 नवंबर को विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। मतगणना 11 दिसंबर को होगी।

इसे भी पढ़ें : मिजोरम विधानसभा चुनाव : पुरुषों को ऐसे टक्कर देंगी ये 15 महिलाएं

लल थनहावला ने बताया, ‘‘यदि समान विचारधारा वाली पार्टियां मेरे पास आती हैं और मेरे नेतृत्व का समर्थन करना चाहती हैं तो उनका स्वागत किया जा सकता है।'' मुख्यमंत्री से पूछा गया था कि चुनावों के बाद साधारण बहुमत नहीं मिलने की स्थिति में क्या कांग्रेस गठबंधन करेगी। यह पूछे जाने पर कि कांग्रेस किसके साथ गठबंधन में सहज महसूस करेगी, इस पर उन्होंने कहा, ‘‘यह मैं अभी नहीं जानता। लेकिन भाजपा और एमएनएफ तो बिल्कुल नहीं। समय आने दीजिए।''