नई दिल्ली: कांग्रेस ने चुनाव आयोग से तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए गई EVM मशीनों पर लगे गुलाबी बैलट पेपरों को हटाने की मांग की। कांग्रेस का कहना है कि गुलाबी रंग सत्तारूढ़ TRS से संबंधित है और इससे मतदाता प्रभावित हो सकते हैं। कांग्रेस ने चुनाव आयोग में अपना ज्ञापन देते हुए सात दिसंबर को होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए आए नौ लाख गुलाबी बैलट पेपर्स लाने का आदेश रद्द करने की मांग की।

कांग्रेस ने अपने ज्ञापन में कहा, "गुलाबी रंग तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) का आधिकारिक रंग और पार्टी का पर्यायवाची है। गुलाबी रंग के बैलट पेपर्स का उपयोग TRS को बेशक लाभ देगा।"

इसके अनुसार, "संविधान के अंतर्गत स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराना चुनाव आयोग की जिम्मेदारी है। हमें यकीन है कि आयोग हमसे सहमत होगा क्योंकि यह एक महत्वपूर्ण मुद्दा है जिसकी तुरंत समीक्षा होने की जरूरत है। पार्टी का रंग पार्टी के प्रतिनिधित्व और उसके विचारों का महत्वपूर्ण संकेत है, वे मतदाताओं को प्रभावित कर सकते हैं।"

इसे भी पढ़ेें:

विकाराबाद में सीटें बढ़ाने के लिए टीआरएस को टक्कर देगी कांग्रेस

पार्टी ने यह भी इशारा किया कि हाल ही में सम्पन्न ग्रेटर हैदराबाद (GHMC) निकाय चुनावों में TRS ने मतदान मशीन पर नोटा का बटन गुलाबी रंग के होने का विरोध किया था। TRS का कहना था कि इससे TRS को वोट देने वाले मतदाता गलती से नोटा का बटन दबा सकते हैं।

प्रदेश कांग्रेस ने भी मुख्य चुनाव अधिकारी रजत कुमार के सामने इस निर्णय को चुनौती दी है।राज्य के शीर्ष चुनाव अधिकारी ने हालांकि कहा है कि EVM पर चिपके गुलाबी बैलट पेपर जन प्रतिनिधित्व अधिनियम के प्रावधानों के अनुरूप हैं।