IAS से नेता बने ओपी चौधरी ने वोटरों को धमकाया, “...नहीं तो कहर बनकर टूटेंगे” 

ओम प्रकाश चौधरी ( प्रोफाइल तस्वीर) - Sakshi Samachar

रायपुर : आईएएस से राजनेता बने ओम प्रकाश चौधरी का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वो मतदाताओं को धमकाते हुए नजर आ रहे हैं। उन्होंने मतदाताओं को धमकी देते हुए कहा है कि सही कामों में जो मेरा साथ नहीं देगा, उन पर मैं कहर बनकर टूट पड़ूंगा।

बता दें कि ओम प्रकाश चौधरी को भाजपा ने छत्तीसगढ़ के खरसिया विधानसभा सीट से मैदान में उतारा है। उन्होंने कहा, 'सबको यह पता होना चाहिए कि मोदी जी 2019 में प्रचंड बहुमत से केंद्र में सरकार बना रहे हैं। सबको पता होना चाहिए कि 2018 में छत्तीसगढ़ में रमन सिंह फिर से चौथी बार सरकार बना रहे हैं।

ओपी चौधरी खुद के लिए कह रहे हैं कि भाजपा का हिस्सा होने के कारण मैं भी बहुत पावरफुल आदमी रहूंगा। जिन लोगों ने सही चीजों के लिए मेरा साथ नहीं दिया, मैं भी उसका साथ नहीं दूंगा। जो मेरा साथ नहीं देगा, मैं उस पर कहर बनकर टूटूंगा।

इसे भी पढ़ें :

राजनीतिक पारी की अटकलों के बीच रायपुर कलेक्टर ने दिया इस्तीफा, भाजपा ने किया स्वागत

रायपुर कलेक्टर पद से इस्तीफा देने वाले ओपी चौधरी भाजपा में हुए शामिल

आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव में भाग्य आजमाने के लिए रायपुर के कलेक्टर ओम प्रकाश चौधरी ने इसी साल अगस्त में अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। वह 2005 बैच के आईएसएस अधिकारी रहे हैं। इसके बाद उन्होंने भाजपा का दामन थाम लिया।

भाजपा ने ओपी चौधरी को खरसिया विधानसभा सीट से मैदान में उतारा है। ये सीट कांग्रेस की परंपरागत सीट मानी जाती है। इस सीट पर दिवंगत नंदकुमार पटेल ने 1990 से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा और वे 2013 तक विधायक रहे। अविभाजित मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के गठन के बाद भी कांग्रेस सरकारों में मंत्री रहे।

2013 में बस्तर की झीरम घाटी में नक्सली हमले के दौरान उनकी मौत हो गई थी। इसके बाद उनके बेटे उमेश पटेल कांग्रेस ने मैदान में उतारा जिन्होंने भारी मतों से जीत अर्जित की थी। कांग्रेस ने फिर से उन्हें उम्मीदवार बनाया है।

Advertisement
Back to Top