श्रीनगर : जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने शनिवार को कहा कि अगर केंद्र राज्य की विशेष दर्जे (अनुच्छेद 35ए और अनुच्छेद 370) पर अपना रुख साफ नहीं करता है, तो उनकी नेशनल कांफ्रेंस (एनसी) पार्टी वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव और राज्य विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करेगी।

अपने दिवंगत पिता शेख मुहम्मद अब्दुल्ला की पुण्यतिथि के अवसर पर अयोजित एक कार्यक्रम में फारूक ने कहा, "अगर केंद्र ने अनुच्छेद 35ए और अनुच्छेद 370 पर अपना रुख साफ नहीं किया तो, हम केवल नगर निगम व पंचायत चुनावों का ही बहिष्कार नहीं करेंगे, बल्कि लोकसभा और विधानसभा चुनावों का भी बहिष्कार करेंगे।"

यह भी पढें :

भारतीय समाज के विघटन का कारण बनेगा वर्तमान SC-ST कानून : शारदा पीठ शंकराचार्य

पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के नेतृत्व वाली पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी(पीडीपी) ने भी पंचायत चुनाव का बहिष्कार करने की घोषणा की है। राज्य में नगर निगम और पंचायत चुनावों की तिथि की घोषणा संभवत: अगले हफ्ते होगी।