नई दिल्ली : राज्यसभा अध्यक्ष वेंकैया नायडू ने उपसभापति हरिवंश के सम्मान में आज सुबह एक ब्रेकफास्ट का आयोजन किया है। हालांकि कांग्रेस ने इसमें शामिल होने से इनकार कर दिया। राज्यसभा के उपसभापति चुनाव में मिली हार के बाद कांग्रेस ने यह फैसला किया है।

वेंकैया नायडू ने इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए राज्यसभा के सभी दलों को आमंत्रित किया है। लेकिन कांग्रेस ने किनारा करते हुए इसमें शामिल नहीं होने का फैसला किया है।

गौरतलब है कि विपक्ष में फूट का फायदा उठाकर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के उम्मीदवार हरिवंश नारायण सिंह ने गुरुवार को राज्यसभा के उपसभापति पद के लिए चुनाव में विपक्ष के उम्मीदवार बीके हरिप्रसाद को आसानी से हरा दिया। अनुभवी पत्रकार और जनता दल युनाइटेड (जद-यू) के सदस्य हरिवंश को 125 जबकि हरिप्रसाद को 105 वोट मिले।

राज्यसभा में सभापति को छोड़कर वर्तमान में 244 सदस्य हैं, लेकिन सदन में केवल 230 सदस्य ही उपस्थित थे। आम आदमी पार्टी (आप) और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के सदस्य मतदान के दौरान मौजूद नहीं थे।

सत्तारूढ़ उम्मीदवार को यह आसान जीत बीजू जनता दल (बीजद) और तेलंगाना राष्ट्र समिति के समर्थन से मिली। दोनों पार्टियों का भाजपा से क्रमश: ओडिशा और तेलंगाना में मुकाबला रहता है, लेकिन दिल्ली में उन्होंने भाजपा की तरफ दोस्ती का हाथ बढ़ाया।

यह भी पढ़ें :

राष्ट्रपति ने मनोनीत किए 4 राज्यसभा सांसद, ये हैं नाम

हरिवंश बने राज्यसभा के उपसभापति, प्रधानमंत्री ने दी बधाई

उम्मीद के मुताबिक अखिल भारतीय अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (अन्नाद्रमुक) के 13 सांसदों ने भी राजग के उम्मीवार का समर्थन किया। सदन में बीजद और टीआरएस के क्रमश: 9 और 6 सदस्य हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरिवंश के लिए समर्थन जुटाने के लिए ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चन्द्रशेखर राव से बातचीत की थी। आम आदमी पार्टी (आप) के तीन सदस्यों ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया। आप के नेताओं ने कहा कि कांग्रेस ने उनसे संपर्क नहीं किया। वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के भी दो सांसद सदन से अनुपस्थित रहे।