मुंबई : फीफा विश्व कप फाइनल और केंद्र की राजग सरकार के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के बीच तुलना करते हुए शिवसेना ने आज कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फ्रांस की तरह भले ही विजयी हुए हों, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उपविजेता क्रोएशिया की तरह कई लोगों का दिल जीता।

शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने कहा, ''फुटबॉल विश्व कप फाइनल में फ्रांस ने (खिताब) जीता, लेकिन क्रोएशिया जिस तरह से खेली उसके लिये उसे याद किया जाएगा। राहुल के बारे में अब उसी तरह से चर्चा हो रही है। जब कोई इस तरह से राजनीति करता है तो चार-पांच कदम आगे बढ़ता है।''

गांधी के प्रधानमंत्री मोदी को गले लगाने के बारे में राउत ने यहां एक समाचार चैनल से कहा कि इस तरह की हरकतें ध्यान आकर्षित करने के लिये की जाती हैं। अगर गांधी ने मोदी को झटका देने के लिये ऐसा किया, तो वह सफल रहे। राज्यसभा सदस्य ने कहा कि गांधी को लोकसभा में कल अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान नये अवतार में दिखने के लिये बधाई दी जानी चाहिये।

इसे भी पढ़ें

चंद्रबाबू को लेकर संसद में मोदी ने खोला राज, कहा- बताया था कि YSRCP के जाल में फंस रहे हो

गांधी ने किसानों की समस्या से लेकर राफेल सौदे समेत विभिन्न मुद्दों पर मोदी सरकार पर तीखे हमले किये। शिवसेना नेता ने कहा, ''मोदी का भाषण प्रधानमंत्री की तरह का था। मोदी जी, मोदी जी हैं। मोदी जी की तुलना किसी और से करना सही नहीं होगा। हालांकि, राहुल के भाषण की भी उसी तरह से चर्चा की जा रही है।''

इसे भी पढ़ें

प्यार और संवेदना से करेंगे मोदी की नफरत का सामना : राहुल गांधी

राउत ने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव का गिरना आश्चर्यजनक नहीं है, क्योंकि निचले सदन में भाजपा नीत राजग के पास बहुमत है। उन्होंने कहा, ''सत्ता की अपनी ताकत है और उसमें डर का तत्व भी है। देश अक्सर प्रधानमंत्री को सुनता है, लेकिन राहुल पहली बार अपने नये अवतार में दिखे।'' मोदी सरकार के खिलाफ कल अविश्वास प्रस्ताव 325-126 के अंतर से गिर गया। भाजपा की पूर्व सहयोगी तेदेपा ने अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था। शिवसेना ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया था।