नई दिल्ली : भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज कहा कि संसद में अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान में विपक्ष को मिली हार 2019 लोकसभा चुनाव की महज एक ‘‘झलक'' है और यह मोदी सरकार तथा उसके मंत्र ‘सबका साथ सबका विकास' में लोगों के भरोसा को दिखाता है। उन्होंने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान के नतीजे लोकतंत्र की जीत है और वंशवाद की राजनीति की हार है।

शाह ने विपक्ष द्वारा लाया गया अविश्वास प्रस्ताव गिरने के बाद ट्वीट कर कहा, ‘‘मोदी सरकार की यह जीत लोकतंत्र की जीत है और वंशवाद की राजनीति की हार है।'' उन्होंने कहा कि ‘‘वंशवाद की राजनीति, नस्लवाद और तुष्टीकरण'' को बढ़ावा देने वाली कांग्रेस की एक बार फिर गरीब पृष्भूमि से आने वाले प्रधानमंत्री को लेकर नफरत उजागर हो गई है।

इसे भी पढ़ें

पहले प्रधानमंत्री पर की तीखी टिप्पणी, फिर लगाया गले, जानें सदन में राहुल ने क्या कहा

सदन में गले मिलने के बाद राहुल गांधी को बुलाकर कान में PM मोदी ने क्या कहा, पढ़ें यह खबर

उन्होंने कहा, ‘‘बिना बहुमत और कोई उद्देश्य ना होने पर कांग्रेस पार्टी ने सरकार के खिलाफ उद्देश्यहीन प्रस्ताव लाकर ना केवल अपने राजनीतिक दिवालियेपन का परिचय दिया है बल्कि उसने लोकतंत्र को कुचलने के अपने पुराने इतिहास को भी दोहराया है। सरकार के पास देश का पूरा भरोसा है।''

संबंधित खबर..

अविश्वास प्रस्ताव पर मोदी : कांग्रेस जनता से कट गई, डूबने वाले हैं उसके साथी