कराची : पाकिस्तान हर मोर्चे पर इस वक्त संघर्ष करता नजर आ रहा है। आर्थिक मुद्दे से लेकर सुरक्षा की दृष्टि से वह आंतरिक विवादों से घिरा हुआ है। बावजूद इसके पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान हूरों के सपने देख रहे हैं।

दरअसल, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को कराची में हल्के-फुल्के अंदाज में यह 'रहस्योद्घाटन' किया कि एक बार अस्पताल में डॉक्टर ने उन्हें ऐसा इंजेक्शन लगाया था कि अस्पताल की नर्से उन्हें हूर लगने लगी थीं।

कराची में एक समारोह में इमरान ने कहा, "2013 में जब मैं सीढ़ी से गिरकर जख्मी हुआ तो (लाहौर के) शौकत खानम अस्पताल के डॉक्टर आसिम ने मुझे ऐसा इंजेक्शन लगाया था कि दर्द गायब हो गया।"

उन्होंने कहा कि इंजेक्शन लगने के बाद उन्हें अस्पताल की नर्से हूर लगने लगी थीं। इमरान ने कहा, "दोबारा दर्द होने पर मैंने डॉक्टर आसिम से कहा कि एक और इंजेक्शन लगा दो, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। मैंने उन्हें धमकाया कि लगा दो, वरना मैं तुम्हें छोड़ूंगा नहीं लेकिन उन्होंने नहीं लगाया।"

यह भी पढ़ें :

इमरान खान की तीसरी पत्नी बुशरा आइने में नहीं दिखती, सामने आया नया रहस्य

इमरान खान से मुलाकात के बाद ट्रंप बोले- कश्मीर के हालात पर अमेरिका की पैनी नजर

इमरान 2013 में लाहौर के उस हादसे का जिक्र कर रहे थे जब वह विपक्षी नेता की हैसियत से एक सभा को संबोधित कर रहे थे और मंच से उतरते समय गिर पड़े थे।

-आईएएनएस