कराची : पाकिस्तानी वायुसेना ने कराची स्थित अपने संग्रहालय में एक पुतला लगाया है जो भारतीय वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान की तरह नजर आता है।

विंग कमांडर ने दोनों देशों की वायु सेनाओं की लड़ाई के दौरान पाकिस्तानी वायुसेना के विमान को मार गिराया था। हालांकि उनका विमान पाकिस्तान में गिर गया था और वह लगभग तीन दिनों तक हिरासत में भी रहे थे।

मीडिया में आई खबरों के अनुसार, एयर चीफ मार्शल मुजाहिद अनवर खान ने इस सप्ताह पाकिस्तानी वायुसेना के नये सेक्शन का उद्घाटन किया है। एक्सप्रेस ट्रिब्यून की खबर के अनुसार, संग्रहालय के इसी भाग में एक पुतला लगा है जो विंग कमांडर की तरह दिखता है और उसपर वर्धमान की तरह मूंछे भी लगी हैं।

उस पुतले के पास चाय का कप, वर्धमान के विमान मिग-21 का ढांचा और टेल रखा हुआ है। संग्रहालय के इस गलियारे का नाम है ‘ऑपरेशन स्विफ्ट रिटोर्ट'।

यह भी पढ़ें :

6 विमानों से अकेला लड़ रहा था अभिनंदन का मिग-21, चश्मदीदों की आंखों देखी

लोकसभा में विपक्ष की मांग, ‘अभिनंदन की मूंछ को राष्ट्रीय मूंछ घोषित करे सरकार’

गौरतलब है कि 36 साल के पायलट अभिनंदन ने बालाकोट एयरस्ट्राइक के दौरान पाकिस्तानी विमानों के साथ आसमान में हुई लड़ाई में अपने मिग-21 बाइसन विमान से पाकिस्तान का अत्याधुनिक विमान एफ-16 मार गिराया था। इसके बाद उनके मिग 21 को मार गिरा दिया गया था।

वह विमान से सुरक्षित निकल गए थे, लेकिन पेराशूट से पाकिस्तानी क्षेत्र में उतरे थे जहां उन्हें पाकिस्तानी सेना ने पकड़ लिया था। हालांकि बाद में पाकिस्तान ने उन्हें छोड़ दिया था।