इस्लामाबाद : उत्तर-पश्चिमी पाकिस्तान में एक बस के पहाड़ में टक्कर मारने से कम से कम 26 लोगों की मौत हो गई और अन्य 13 लोग घायल हुए हैं। पुलिस ने बताया कि पहाड़ी रास्ते पर वाहन मोड़ते समय चालक ने बस पर से नियंत्रण खो दिया था, जिस कारण यह हादसा हुआ।

उन्होंने बताया कि हादसा गिलगित-बाल्टिस्तान (जीबी) के पास खैबर पख्तूनख्वा प्रांत की सीमा पर बाबुसर टोप इलाके में हुआ। ‘एक्सप्रेस ट्रिब्यून' की एक खबर के अनुसार बस स्कार्दू से रावलपिंडी जा रही थी। बस में 16 सैन्य कर्मी सहित 40 यात्री सवार थे। गिलगित-बाल्टिस्तान के मुख्यमंत्री के प्रवक्ता राशीद अरशद ने मलबे से महिला और बच्चों सहित 26 लोगों के शव बरामद होने की पुष्टि की है।

उन्होंने बताया कि 13 यात्रियों को चिलास जिला मुख्यालय अस्पताल में भर्ती कराया गया है और उनमें से कुछ की हालत गंभीर है। डायमर पुलिस प्रवक्ता मोहम्मद वकील के अनुसार बस एक निजी कम्पनी की थी, जो स्कार्दू से रावलपिंडी जा रही थी। रविवार सुबह चालक ने एक मोड़ पर वाहन पर से संतुलन खो दिया और वह पहाड़ से जा टकराई।

अभी यह स्पष्ट नहीं है कि चालक ने वाहन पर से संतुलन कैसे खोया। ‘डॉन न्यूज' की खबर के अनुसार पुलिस ने बताया कि राहत एवं बचाव दलों को मौके पर भेज दिया गया है। जीबी सरकार से एक हेलीकॉप्टर मुहैया कराने की अपील भी की गई है ताकि शवों को पहचान के लिए स्कार्दू लाया जा सके। बाबुसर पास मार्ग का इस्तेमाल अधिकतर पर्यटकों द्वारा किया जाता है।

इसे भी पढ़ें :

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में नाले में गिरी बस, 24 की मौत

समधन से मिलने पहुची पत्नी तभी आया वो, फिर बंद कमरे में किया ऐसा सलूक

यह हर वर्ष जून से अक्टूबर के बीच खुलता है। बाकी समय बर्फबारी के चलते यह मार्ग आवाजाही के लिए बंद रहता है। इस्लामाबाद से गिलगित-बाल्टिस्तान जाने के लिए यह सबसे छोटा रास्ता है।