वाशिंगटन : अमेरिका 1970 के दशक के बाद पहली बार 2020 और 2021 में चांद पर उपकरण भेजने की योजना बना रहा है। यह 2024 में चांद पर लोगों को भेजने के अमेरिकी मिशन का हिस्सा होगा।

नासा का कहना है कि ‘अर्तेमिस' कार्यक्रम के तहत चांद पर उपकरण भेजने के लिए उसने अमेरिकी कंपनियों एस्ट्रोबॉटिक, इंट्यूटिव मशीन्स और ऑर्बिट बियॉड को चुना है।

इसे भी पढें :

क्या अमेरिकी वाकई चांद पर गए थे, अब रूस लगाएगा पता

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके प्रशासन ने चांद पर लोगों को भेजने के कार्यक्रम में बदलाव करते हुए उसे चार साल पहले, 2024 तय किया है। उक्त तीनों कंपनियों ने अलग-अलग आकार के अपने-अपने यान तैयार किए हैं। तीनों यान नासा के उपकरणों की 23 खेप चांद पर पहुंचाएंगे। पहली खेप सितंबर 2020 में भेजी जाएगी।