हैदराबाद : मां की गुहार सुनकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने हैदराबाद की एक महिला की मदद की है। महिला ने विदेश विभाग की मंत्री सुषमा स्वराज से उसकी बेटी को स्वदेश लाने की गुहार लगाई थी। सुषमा स्वराज ने भारत सरकार की ओर से सहयोग देते हुए कुलसम बानू को स्वदेश लाया गया। इस पर कुलसम बानू ने सुषमा स्वराज को धन्यवाद दिया है।

कुलसम बानू की मां रूख्सार बानू ने कहा कि उसकी बेटी कुलसम बानू अस्वस्थ होने से उसे मसकट से लौटने के बाद शेल्टर होम में रखा गया। उसे मसकट के काफिल (नौकरी देनेवाला) के चंगुल से बचाया गया। उसे नौकरी का झांसा देकर मसकत के ओमान भेजा गया था।

इसे भी पढ़ें :

रहमत बेगम ने सुषमा स्वराज से लगाई गुहार, कहा- उसकी बहन को स्वदेश लायें

कुलसम बीते चार महीने से शेल्टर होम में रह रही है और उसे खून की उल्टियां हो रही थी। मसकट में बदर के अल समा अस्पताल के डॉक्टरों ने बताया था कि उसकी दोनों किडनियां फेल हो चुकी हैं।