बीजिंगः चीन के हेनान प्रांत में किंडरगार्टन के एक शिक्षक को 23 बच्चों को कथित रूप से नाइट्रेट के रूप में जहर देने के आरोप में हिरासत में ले लिया गया है।

प्रांतीय मीडिया के अनुसार, जिआओजुओ के मेंगमेंग किंडरगार्टन में कई बच्चों को बेहोशी और उल्टी के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया। रिपोर्ट के अनुसार, हालत में सुधार होने के बाद ज्यादातर बच्चों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, एक बच्चे के परिजन ली ने कहा कि 25 मार्च को उन्हें किंडरगार्टन के एक शिक्षक ने फोन कर बताया कि उनके बच्चे ने कुछ खा लिया जिसके बाद उसने उल्टी की और बेहोश हो गया।

प्रांतीय मीडिया ने ली के हवाले से कहा, "वहां पहुंचने पर मुझे मेरा बच्चा बेहोश मिला। उसकी पैंट उल्टी से भरी थी। वहां और भी बच्चे थे जो उल्टियां कर रहे थे और पीले पड़ गए थे।"

अन्य बच्चों को अस्पताल में भर्ती कराया गया और एक अन्य बच्चे के परिजन हू ने कहा कि उसके बच्चे के पेट की सफाई करनी पड़ी। जांच में हू के बच्चे के भी नाइट्रेट के रूप में जहरीला पदार्थ खाने का पता चला था।

इसे भी पढ़ेंः

दुनिया में चीन के प्रोजेक्ट्स राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए लिए सबसे बड़ा खतराः पोम्पिओ

नाइट्रेट एक कार्सीनोजेन और हैवी मेटल होता है जो गलती से खा लेने पर लिवर और गुर्दे को नुकसान पहुंचाता है। सभी बच्चे एक ही ग्रेड के हैं। उन सभी ने दलिया खाया था जिसका स्वाद मीठा होना चाहिए था। एक परिजन ने कहा, "लेकिन बच्चों ने बताया कि दलिया नमकीन था।"

पुलिस ने जांच में पाया कि उस दिन किंडरगार्टन के एक शिक्षक ने बच्चों के दलिया में नाइट्रेट मिलाया था जिसके कारण बच्चे बीमार पड़ गए। रिपोर्ट के अनुसार, जिआयोजुओ में स्थानीय जन सुरक्षा ब्यूरो ने शिक्षक को हिरासत में ले लिया है।