इस्लामाबाद : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बड़ी योजना की शुरूआत की है जिसका उद्देश्य गरीबी दूर करना एवं संवेदनशील समूहों, खास कर महिलाओं को सहायता मुहैया कराना है।

इमरान ने बुधवार को इस योजना की शुरूआत करने के बाद कहा कि उनकी सरकार संविधान में संशोधन करेगी जिसके बाद भोजन, कपड़ा, आवास एवं स्वास्थ्य जैसी मूलभूत जरूरतों को पूरा करना सरकार के लिए अनिवार्य होगा। उन्होंने गरीबों के कल्याण के लिए खर्च की जाने वाली 80 अरब रूपये की राशि को 2020 तक बढ़ा कर 120 अरब रूपये करने का भी ऐलान किया।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान में एक और नाबालिग हिंदू लड़की का अपहरण, जबरन धर्मांतरण

प्रधानमंत्री ने सामाजिक सुरक्षा एवं गरीबी उन्मूलन के लिए एक मंत्रालय बनाने का भी ऐलान किया। उन्होंने कहा कि 57 लाख गरीब महिलाओं के लिए बचत खाते खोले जाएंगे और इन खातों तक उनकी पहुंच बनाने के लिए उन्हें मोबाइल फोन दिए जाएंगे।