लाहौर: पाकिस्तान में दो नाबालिग हिंदू लड़कियों का कथित रूप से निकाह करवाने वाले मौलवी को गिरफ्तार कर लिया गया। खबरों के मुताबिक इन नाबालिग हिंदू लड़कियों का अपहरण के बाद जबरन धर्म परिवर्तन करा दिया गया था।

पाकिस्तानी मीडिया में आयी खबर के अनुसार इन नाबालिग लड़कियों ने पंजाब प्रांत की एक अदालत से सुरक्षा की गुहार लगायी है। जियो न्यूज की उर्दू वेबसाइट जंग.कॉम के मुताबिक किशोरियों ने पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में बहावलपुर की अदालत में सुरक्षा के लिये गुहार लगाई है। इसमें कहा गया कि निकाह करवाने वाले मौलवी को सिंध में खानपुर से गिरफ्तार किया गया।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मामले में जांच के आदेश दिये हैं। 13 वर्षीय रवीना और 15 वर्षीय रीना का इलाके के "प्रभावशाली'' लोगों के एक समूह ने घोटकी जिले स्थित उनके घर से कथित रूप से अपहरण कर लिया था।

यह भी पढ़ें:

Pakistan: दो नाबालिग हिंदू लड़कियों का जबरन धर्म परिर्वतन कर कराई शादी, सुषमा ने मांगी रिपोर्ट

हालांकि ताजा मामला पाकिस्तान की मीडिया में सुर्खियां बनी जिससे कार्रवाई की उम्मीद बंधी है। साथ ही देश के प्रधानमंत्री इमरान खान को भी जब मामले का पता चला तो वे सन्न रह गए। इमरान ने मामले को गंभीरता से लेते हुए सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं। वहीं जानकारों की मानें तो पाकिस्तान के विभिन्न प्रांतों में हिंदू धर्मावलंबियों के साथ इसी तरह की जोर जबरदस्ती की जाती है। जिसे चुपचाप सहने के सिवा उनके पास कोई चारा नहीं होता है।