वाशिंगटन: भारतीय मूल की अमेरिकी सीनेटर कमला हैरिस ने 2020 में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव लड़ने का एलान किया है। कमला मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की कटु आलोचक हैं। कमला अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से उम्मीदवार होंगी।

54 वर्षीय कमला हैरिस भारतीय मूल की अमेरिकी डेमोक्रेट सांसद हैं। कमला हैरिस ने वीडियो मैसेज और ट्वीट के जरिए अपनी उम्मीदवारी का एलान किया है। एक निजी चैनल से बात करते हुए कमला ने कहा कि उन्हें अमेरिका से प्यार है। उनके मुताबिक ये सही मौका है जब उन्हें अपनी जिम्मेदारी उठाने के लिए फैसला लेना है। बता दें कि चुनाव लड़ने की अहम घोषणा का दिन मार्टिन लूथर किंग जूनियर दिवस में चुना था। कमला मार्टिन लूथर को अपना आदर्श मानती हैं।

यह भी पढ़ें:

भारतीय मूल की सीनेटर कमला हैरिस को संदिग्ध पैकेज भेजने वाला गिरफ्तार

कमला हैरिस के मुताबिक, 'डॉ. किंग की सबसे प्रेरणादायक बात लगती है कि वह महत्वाकांक्षी थे। वह उसी तरह महत्वाकांक्षी थे, जैसा हमारा देश है। हमें पता है कि हम अभी उन आदर्शो तक नहीं पहुंचे हैं। लेकिन हमारी ताकत यही है कि हम उन आदर्शो के लिए लड़ते हैं।' बता दें कि अमेरिका में जनवरी के तीसरे सोमवार को मार्टिन लूथर किंग जूनियर दिवस के तौर पर मनाया जाता है।

कमला हैरिस ने दावा किया कि वे अमेरिका के लोगों के हक की लड़ाई लड़ने के लिए तैयार हैं। अगर कमला चुनाव जीत जाती हैं तो वे अमेरिका की पहली महिला राष्ट्रपति होंगी।

भारतीय मूल की कमला का नाता तमिलनाडू से हैं। उनकी मां श्यामला गोपालन 1960 में अमेरिका आकर बस गई थीं। वो अपने जमाने की जानी मानी कैंसर स्पेशलिस्ट थीं। जबकि कमला के पित डोनाल्ड हैरिस अफ्रीकी मूल के अमेरिकी थे। कमला हैरिस ने बचपन से ही संघर्षों में जीना सीखा है। जब वे महज 7 साल की थीं तभी उनके माता-पिता के बीच तलाक हो गया था। कमला की परवरिश मां ने की है, लिहाजा उनपर भारतीय संस्कृति की गहरी छाप है।