ह्यूस्टन : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त राष्ट्र महासभा में हिस्सा लेने के लिए अमेरिका रवाना हो गए हैं। रविवार (22 सितंबर) को ह्यूस्टन में आयोजित 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में वह अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे। लेकिन इससे पहले अमेरिका में कथित तौर मोदी विरोधी पोस्टर नजर आ रहे हैं।

सोशल मीडिया पर वायरल हुई तस्वीरों में अमेरिका के कुछ जगहों और गाड़ियों पर मोदी विरोधी पोस्टर लगाए गए हैं। हालांकि यह पोस्टर किस संगठन ने और क्यों लगया है, इस बात की पुष्टि नहीं की गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कुछ लोगों ने दावा किया है कि 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने कुछ खालिस्तानी और नकली कश्मीरी समूह बनाकर आ सकते हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, कुछ पाकिस्तान समर्थकों ने वॉट्सऐप, फेसबुक और ट्विटर के जरिए कार्यक्रम को लेकर नफरत भरे मैसेज वायरल करने शुरू कर दिए हैं।

यह भी पढ़ें :

अमेरिका दौरे पर पीएम मोदी, इन मुद्दों पर रहेगा ध्यान

‘Howdy Modi’ इवेंट में पीएम मोदी संग होंगे राष्ट्रपति ट्रंप, 50 हजार लोगों को करेंगे संबोधित

दावा किया जा रहा है कि कुछ लोग नकली कश्मीरी बनकर पीएम मोदी के कार्यक्रम का विरोध कर सकते हैं, जबकि उनका कश्मीर और वहां के हालात से कोई लेना-देना नहीं है। वह तो सही से कश्मीरी भाषा भी नहीं बोल पा रहे हैं। वह सिर्फ जनता को गुमराह करने और दुनिया के सामने झूठ रखने के लिए ऐसा कर सकते हैं।