ब्रिटेन के पूर्व पीएम का खुलासा, मनमोहन सिंह ने कर ली थी पाकिस्तान पर हमले की तैयारी

डेविड कैमरन से मुलाकात करते पूर्व पीएम मनमोहन सिंह (फाइल फोटो) - Sakshi Samachar

लंदन : ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने कहा कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह "संत पुरुष" हैं, लेकिन उन्होंने पाकिस्तान पर हमले की तैयारी भी कर ली थी। उस वक्त मनमोहन सिंह ने कहा था कि यदि अब पाकिस्तान नहीं सुधरेगा तो उसके खिलाफ सैन्य कार्रवाई करनी होगी।

ब्रिटेन के पूर्व पीएम डेविड कैमरन ने गुरुवार को अपने संस्मरण का विमोचन किया, जिसमें उन्होंने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को ‘‘संत पुरुष'' बताया है और कहा है कि मनमोहन सिंह ने उन्हें बताया था कि अगर मुंबई की तरह दूसरा आतंकवादी हमला हुआ तो पाकिस्तान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई करनी होगी।

डेविड कैमरन की किताब

कैमरन ने ‘फॉर द रिकॉर्ड' में अपने 52 वर्ष के निजी एवं व्यावसायिक जीवन के घटनाक्रम को लिखा है और इसमें 2010 से 2016 के बीच का विशेष तौर पर जिक्र है जब वह ब्रिटेन के प्रधानमंत्री थे। इस दौरान उनके मनमोहन सिंह के साथ ही नरेंद्र मोदी के साथ भी अच्छे रिश्ते रहे।

कैमरन ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साथ मेरे रिश्ते अच्छे रहे। वह संत पुरुष हैं, लेकिन भारत के खतरों के प्रति वह कड़ा रुख भी रखते थे। भारत की एक यात्रा के दौरान उन्होंने मुझसे कहा कि मुंबई में 2008 के आतंकवादी हमले की तरह कोई दूसरा आतंकवादी हमला होता है तो भारत को पाकिस्तान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई करनी होगी।''

उन्होंने कहा, ‘‘भारत के संदर्भ में मैंने कहा था कि हमें आधुनिक सहभागिता की जरूरत है न कि औपनिवेशिक अपराध की भावना के साथ। यह सहभागिता दुनिया के सबसे पुराने लोकतंत्र और दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के साथ हो। ब्रिटेन के कई सफल व्यवसायी और सांस्कृतिक हस्तियां भारतीय मूल के रहे हैं और इस प्रयास में वे काफी सहायक साबित हो सकते हैं।''

अपने संस्मरण में भारत-ब्रिटेन संबंधों पर ध्यान केंद्रित करते हुए कंजरवेटिव पार्टी के 52 वर्षीय पूर्व नेता ने भारत के दो नेताओं की प्रशंसा की मनमोहन सिंह और नरेंद्र मोदी। उन्होंने नवम्बर में वेम्बले स्टेडियम में संबोधन के दौरान स्टेज पर मोदी से गले मिलने की घटना को याद किया।

उन्होंने कहा, ‘‘कई क्षण रहे जिसमें वेम्बले स्टेडियम में भारतीय मूल के लोगों की सबसे बड़ी भीड़ का इकट्ठा होना भी शामिल है।''

यह भी पढ़ें :

मोदी सरकार पर बरसे मनमोहन, बोले- नोटबंदी और GST की गलती से नहीं उबरा देश

पूरा देश अपने जवानों के साथ, आतंकवाद से कोई समझौता नहीं हो सकता: मनमोहन

कैमरन ने कहा, ‘‘मोदी के संबोधन से पहले मैंने 60 हजार की भीड़ से कहा कि मुझे लगता है कि किसी दिन भारतीय मूल का ब्रिटिश व्यक्ति दस डाउनिंग स्ट्रीट में प्रधानमंत्री के तौर पर आएगा। लोगों की भीड़ ने चिल्लाकर इसे मंजूरी दी जो अद्भुत था। और जैसे ही स्टेज पर मोदी और मैंने एक-दूसरे को गले लगाया मुझे उम्मीद जगी कि यह ब्रिटेन द्वारा दुनिया को खुले हृदय से स्वागत करने का संकेत देगा।''

कैमरन ने दिल्ली में टुक टुक से यात्रा करने और मुंबई की झुग्गी-झोपड़ियों घूमने का भी जिक्र किया। उन्होंने अमृतसर में ऐतिहासिक स्वर्ण मंदिर के दौरे का भी ब्यौरा दिया है जिस दौरान 2013 में उन्होंने ब्रिटेन के ‘‘सबसे बड़े'' व्यवसाय मिशन का नेतृत्व किया और ब्रिटेन के पहले प्रधानमंत्री थे जिन्होंने जालियांवाला बाग नरसंहार पर दुख जताया था।

Advertisement
Back to Top