इस्लामाबाद : पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने बुधवार को कहा कि वह इस्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी) की अबुधाबी में प्रस्तावित बैठक में भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की मौजूदगी के कारण हिस्सा नहीं लेंगे। सुषमा स्वराज को सम्मेलन में 'विशेष अतिथि' के रूप में शिरकत करने का आमंत्रण दिया गया है।

भारत को अगले महीने अबुधाबी में होने वाले विदेश मंत्रियों के सम्मेलन में पहली बार आमंत्रित किया गया है, जहां सुषमा स्वराज 'विशेष अतिथि' के रूप में शिरकत करेंगी।

कुरैशी ने जियो न्यूज से कहा, "मैंने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के विदेश मंत्री से बात की है और सुषमा स्वराज को आमंत्रित किए जाने पर अपनी नाराजगी व्यक्त की है। मैंने अपना रुख साफ कर दिया है कि भारत ने आक्रामकता दिखाई है।" उन्होंने कहा, "मौजूदा हालात में मेरा ओआईसी की बैठक में शामिल होना संभव नहीं होगा, जहां सुषमा स्वराज मौजूद रहेंगी।"

पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के सबसे बड़े आतंकी प्रशिक्षण शिविर पर मंगलवार को भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए हमले के बाद पाकिस्तानी विदेशमंत्री का यह बयान आया है।

यह भी पढ़ें :

बौखलाए पाकिस्तान का दावा, भारतीय मिग विमान गिराने की ली जिम्मेदारी

भारत ने माना जवाबी कार्रवाई में ध्वस्त हुआ मिग विमान, एक पायलट भी लापता

भारतीय विदेश सचिव विजय के. गोखले ने मीडिया को बताया था कि वायुसेना की कार्रवाई में बहुत बड़ी संख्या में आतंकी और उनके प्रशिक्षक मारे गए हैं। विपक्षी दलों के नेताओं ने पाकिस्तान सरकार से वायुसेना की कार्रवाई के मद्देनजर ओआईसी बैठक का बहिष्कार करने की मांग की है।

-आईएएनएस