हैदराबाद : राज्य की जनता बरसात के मौसम में होने वाले वायरल बुखार, डेंगू आदि से परेशान है और इसी के मद्देनजर सरकार ने जनता को जागरुक करने के लिए कार्रवाई शुरू कर दी है।

म्युनिसिपल, आईटी विभाग के मंत्री केटीआर ने स्पष्ट किया है कि ये सारी बीमारियां साफ-सफाई न रहने की वजह से हो रही है और सफाई पर ध्यान दिया जाए तो इनकी रोकथाम हो सकती है।

ज्ञात हो कि केटीआर ने मौसमी बीमारियों के प्रसार को रोकने के लिए उठाए जाने वाले कदमों पर चिकित्सा मंत्री ईटल राजेंदर और जीएचएमसी के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की थी।

इसी क्रम में मंत्री केटीआर ने निर्णय लिया कि साफ-सफाई की शुरुआत वे अपने ही घर से करेंगे। केटीआर ने अपने प्रगति मैदान स्थित घर से मंगलवार को स्वच्छता अभियान की शुरुआत कर दी।

केटीआर ने खुद अपने घर की सफाई की और निरीक्षण भी किया। मच्छर न हो इसके लिए दवा का छिड़काव भी किया। गमलों के आस-पास पानी जमा होने की जगह पर तेल छिड़का।

इस अवसर पर केटीआर ने सरकारी अधिकारियों और जन प्रतिनिधियों से इस स्वच्छता अभियान में भाग लेने का आग्रह किया।

केटीआर गमलों में मच्छरों की दवा छिड़कते हुए 
केटीआर गमलों में मच्छरों की दवा छिड़कते हुए 

केटीआर ने कहा कि हर व्यक्ति को अपने घर और आस-पास के परिसर को साफ रखना चाहिए। केटीआर के साथ, शहर के मेयर बोंतु राममोहन, विधायिका में सरकारी सचेतक बाल्कसुमन भी रहे।

इसे भी पढ़ें :

तेलंगाना के नल्लामल्ला में यूरेनियम का सर्वेक्षण करने पहुंचे अधिकारी, लोगों ने किया विरोध

मंत्री केटीआर के आह्वान पर, उन्होंने कहा कि वे भी अपने घर व आस-पास के परिसर की स्वच्छता बनाए रखने के लिए आवश्यक कदम उठाएंगे।

जनता को केटीआर ने निर्देश दिया कि घरों में पानी के गड्ढे और फूलों के गमले में पानी न भरा रहे इस बात पर ध्यान देना चाहिए। केटीआर ने कहा कि जनभागीदारी से मौसमी बीमारियों की रोकथाम को सुगम बनाया जा सकता है।

केटीआर ने एक बयान में कहा, "हम नगरपालिका और जीएचएमसी की ओर से मच्छरों की रोकथाम और स्वच्छता प्रबंधन की प्रक्रिया में काम कर रहे हैं।"