हैदराबाद : टीआरएस के नेताओं में जो असंतृप्ति है वह अब खुलकर बाहर आ रही है। अब तक मंत्री ईटला, विधायक रसमई बालकिशन ने अपनी असंतृप्ति को मंच पर सबके सामने रख दिया था, यह तो सब जानते ही हैं।

अब इनमें पूर्व गृहमंत्री, टीआरएस के वरिष्ठ नेता नायनी नरसिंहारेड्डी भी शामिल हो गए हैं। नायनी ने केसीआर पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें मंत्री पद देने का वादा करके अब केसीआर अपनी बात से मुकर गए हैं।

बजट सत्र के पहले दिन ही नायनी का ये आरोप सबका ध्यान आकर्षित कर रहा है। सोमवार को संवाददाताओं को संबोधित करते हुए नायनी ने कहा कि, जब मैंने विधानसभा चुनाव लड़कर विधायक बनने की बात कही ।

केसीआर ने कहा कि नहीं, चुनाव मत लड़ो काउंसिल में रहो, मंत्रीपद तो तुम्हें मिलेगा ही। साथ ही नायनी ने यह भी कहा कि उनके दामाद को भी केसीआर ने एमएलसी देने का वादा किया।

इसे भी पढ़ें :

Telangana Budget 2019 : रैतु बंधु योजना के लिए 12 हजार करोड़ रुपए आवंटित

नायनी ने अपनी असंतृप्ति व्यक्त करते हुए आगे कहा कि, जब केसीआर मंत्रीपद देने की बात कर रहे थे और अब कह रहे हैं कि आरटीसी का चेयरमैन बन जाओ।

नायनी ने साफ कहा कि, मुझे चेयरमैन का पद नहीं चाहिए, मुझे उस पद के प्रति कोई आसक्ति नहीं है।

ताजा घटनाक्रम को देखते हुए फिर से नायनी ने यह कहकर तंज भी कसा कि हमारी पार्टी के बड़े हैं केसीआर और उनके साथ हम सब पार्टी के मालिक हैं। वहीं किराएदार (अन्य पार्टी के लोग) कब तक यहां रहते है, यह उनकी मर्जी है।