हैदराबाद: बिहार एसोसिएशन हैदराबाद की महिला शाखा 'बिहार महिला शक्ति' की अहम बैठक बेगमपेट में हुई। जिसमें आगामी चार अगस्त को 'सावन की सैर' कार्यक्रम का फैसला लिया गया। बता दें कि बिहार महिला शक्ति बिहार एसोसिएशन हैदराबाद की ही इकाई है। महिला शक्ति की तरफ से सामाजिक और सांस्कृतिक गतिविधियां सालों भर जारी रहती है। इसी सिलसिले में इस बार 'सावन की सैर' के आयोजन का फैसला लिया गया है। जिसके लिए 4 अगस्त का दिन तय किया गया है।

महिला अध्यक्ष सुधा राय ने प्रेस विज्ञप्ति में कार्यक्रम के बारे में विस्तार से जानकारी दी। श्रावण मास का हिंदू धर्म में काफी महत्व है। हिंदू पंचांग में इसे सबसे पवित्र महीना माना गया है और बारह महीनों में इसका अपना विशिष्ट स्थान होता है । इसे मासोत्तम भी कहा जाता है ।

श्रावण के महत्व को देखते हुए बैठक में महिला शक्ति ने निर्णय लिया गया कि अगले महीने चार अगस्त को 'सावन की सैर' का आयोजन किया जाएगा ।

इस बार 'ढोला री ढानी' में 'सावन की सैर'

महिला शक्ति ने इस बार 'ढोला री ढानी' में सावन की सैर कार्यक्रम मनाने का फैसला लिया। डॉ आशा मिश्रा ने कार्यक्रम की देख रेख की ज़िम्मेदारी ली। महिला शक्ति के इस कार्यक्रम का आकर्षण मेंहदी, झूला आदि होगा। ऊषा कुमारी ने कार्यक्रम के दौरान महिलाओं के पहनावे पर अहम सुझाव दिया। तय किया गया कि महिलाएं हरे रंग के परिधान में ही कार्यक्रम में शामिल होंगी। महिला सचिव पिंकी सिंह ने कार्यकारिणी सदस्यों से अपील की कि अधिक से अधिक महिलाओं को महिला शक्ति से जोड़ा जाय और सबको इस कार्यक्रम की सूचना दी जाय। इन प्रयासों से अधिक से अधिक महिलाओं को कार्यक्रम में शामिल करने की तैयारी की जा रही है।

यह भी पढें:

हैदराबाद में ब्रह्मर्षि महिलाओं ने ‘सावन की सैर’ का किया सफल आयोजन

कार्यक्रम में महिलाओं के साथ ही बच्चों की भागीदारी का भी इंतजाम किया गया है। रंजना सिन्हा एवं सुनीता यादव ने बच्चों के साथ साथ महिला मित्रों को भी इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए प्रेरित किया। इस दौरान विभिन्न खेलों और प्रतियोगिताओं की तैयारी पर चर्चा हुई। मुन्नी सिंह, कविता एवं नूतन झा ने आश्वस्त किया कि वे इस बात का ध्यान रखेंगे कि अधिक से अधिक लोग इस सैर का

आनंद उठायें। रेखा देवी ने श्रावण के मद्देनज़र बैठक में उपस्थित सदस्यों को सुहाग की चूड़ी और बिंदी भेंट की। जिसे सदस्यों ने तहे दिल से स्वीकारा।

बैठक में शामिल अहम सदस्यों में शामिल रंजू कुमारी, नीलम सिंह, मेघा सर्राफ़, प्रेम देवी सर्राफ़, करुणा सिंह, रूपा सिंह, हेमा सिंह, अनीता सिंह, रीना विश्वकर्मा, रेखा सिंह, निभा सिंह, रुशाली मोरे, पूनम सिंह, अंजु सिंह, कल्पना आदि ने भी अपने सुझाव रखे। बैठक के अंत में महिला अध्यक्ष सुधा राय ने शामिल सदस्यों के लिए धन्यवाद ज्ञापन किया।