हैदराबाद: शम्शाबाद स्थित हैदराबाद का राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा दुनिया के दस सर्वश्रेष्ठ हवाई अड्डों में शुमार हुआ है। एयर-हेल्प नाम की संस्था के सर्वे में हैदराबाद एयरपोर्ट को तरजीह मिली है।

हवाई यात्रा से संबंधित विषयों में एयर हेल्प संस्था को विशेषज्ञता हासिल है। खासकर हवाई यात्रियों से जुड़े मुद्दे ये संस्था लगातार उठाती रही है। संकलित डाटा के आधार पर अमेरिका का न्यू जर्सी हवाई अड्डा को अव्वल दर्जा हासिल हुआ है। जबकि हैदराबाद के RGI एयरपोर्ट को आठवां स्थान मिला है। इस रैकिंग में हैदराबाद एयरपोर्ट को छोड़कर देश का बाकी कोई हवाई अड्डा जगह हासिल नहीं कर सका है।

यह भी पढ़ें:

हैदराबाद में दक्षिण भारत का पहला ‘एयरपोर्ट रेडियो’

राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट
राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट

वहीं कतर एयरवेज लगातार दूसरे साल दूसरे स्थान पर काबिज है। इसके बाद अमेरिकन एयरलाइन्, एयरोमेक्सिको, SAS स्कैंडिनेवियन एयरलाइन्स और क्वींटास पांच बेहतरीन एयरलाइन्स में शुमार हुआ है। वहीं खराब और बदतर एयरलाइन्स की रैंकिंग में र्यानायर, कोरियन एयर, कुवैत एयरवेज, यूके ईजी जेट और थॉमस कुक एयरलाइन्स शामिल हैं।

एयर-हेल्प सर्वे 2019 के मुताबिक दुनिया के दस बेहतरीन हवाई अड्डों की लिस्ट

1. हमाद इंटरनेशनल एयरपोर्ट, कतर

2. टोक्यो इंटरनेशनल एयरपोर्ट, जापान

3. एथेन्स इंटरनेशनल एयरपोर्ट, ग्रीस

4. अफोन्सो पेना इंटरनेशनल एयरपोर्ट, ब्राजील

5. जीडांस्क लेच वासा एयरपोर्ट, पोलैंड

6. शेरेमेट्येवो इंटरनेशनल एयरपोर्ट, रूस

7. चांगी एयरपोर्ट, सिंगापुर

8. राजीव गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट, हैदराबाद

9. टेनेरिफ नॉर्थ एयरपोर्ट, स्पेन

10. विरासोपोस/ कैम्पिनास इंटरनेशनल एयरपोर्ट, ब्राजील

राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट
राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट

दुनिया के दस बदतर एयरपोर्ट: वर्ष 2019

1. लंदन गैटविक एयरपोर्ट

2. बिली बिशप टोरंटो सिटी एयरपोर्ट, कनाडा

3. पोर्टो एयरपोर्ट, पुर्तगाल

4. पैरिस ऑर्ली एयरपोर्ट, फ्रांस

5. मैन्चेस्टर एयरपोर्ट, यूके

6. माल्टा इंटरनेशनल एयरपोर्ट, माल्टा

7. हेनरी कोआनडाल इंटरनेशनल एयरपोर्ट, रोमानिया

8. इंधोवेन एयरपोर्ट, नीदरलैंड

9. कुवैत इंटरनेशनल एयरपोर्ट, कुवैत

10. लिस्बन पोर्टेला एयरपोर्ट, पुर्तगाल

राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट
राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट

राजीव गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट, हैदराबाद की खासियत

23 मार्च 2008 को हैदराबाद में राजीव गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट की शुरुआत हुई थी। बेगमपेट एयरपोर्ट को शिफ्ट कर यहां नया हवाईअड्डा बनाया गया था।

हैदराबाद एयरपोर्ट में सबसे अधिक हिस्सेदारी निजी कंपनी जीएमआर की है। इसके अलावा तेलंगाना राज्य सरकार, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया और मलेशिया एयरपोर्ट होल्डिंग कंपनी का भी इसमें मालिकाना हक है।

हैदराबाद एयरपोर्ट को भविष्य के संभावित विस्तार के लिहाज से जमीनों का आवंटन किया गया है। इसके आस पास का बड़ा हिस्सा वन क्षेत्र घोषित है जहां निर्माण पूरी तरह प्रतिबंधित है। रनवे के विस्तार के साथ ही कुछ महीने पहले ही यहां नए इंटरनेशनल टर्मिलन की शुरुआत की गई है। एयरपोर्ट पहुंचने का रास्ता बेहद चौड़ा और हरियाली से भरा हुआ है। यहां से गुजरते हुए प्राकृतिक छटा देख आप अभिभूत हुए बिना नहीं रह सकेंगे।