जवानी को रखना है लंबे समय तक कायम तो रोजाना खायें देशी घी! 

कान्सेप्ट फोटो  - Sakshi Samachar

हैदराबाद : देसी घी के इतने फायदे हैं कि हम गिनाते-गिनाते और आप गिनते-गिनते परेशान हो सकते हैं। अगर आप रोज़ाना खाने में घी का इस्तेमाल करते हैं तो इससे न सिर्फ आपका खाना ज़ायकेदार होगा बल्कि इससे आपके शरीर का एनर्जी लेवल भी बढ़ेगा। आज हम आपको देसी घी के एक नए फायदे के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके बारे में शायद ही आपको पता हो।

डॉक्टर और न्यूट्रीशियनिस्ट भी इस बात से सहमत हैं कि अगर समुचित मात्रा में देसी घी का सेवन किया जाए तो यह हड्डियों और रोध प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाता है।

हड्डियों को मजबूत बनाती है देसी घी

इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल की चीफ क्लीनिकल न्यूट्रीशियनिस्ट प्रियंका रोहतगी ने बताया, 'भारतीय समाज में देसी घी को बेस्ट इम्युनिटी बूस्टर में से एक माना जाता है। यह हमारी आंखों, पाचन तंत्र के लिए लाभदायक है और यहां तक कि यह हड्डियों को भी मजबूत बनाता है। देसी घी से स्किन और बाल भी अच्छे होते हैं।'

सर्दी-खांसी के दौरान मददगार

डॉक्टर का यह भी कहना है कि यह एक बेहतरीन एंटीबायोटिक है जो सर्दी-खांसी के दौरान मददगार है। इसका उपयोग घावों को भरने के लिए भी किया जाता है। प्रेग्नेंसी के दौरान देसी घी मां और बच्चे दोनों को पोषण प्रदान करता है, क्योंकि उन्हें इसकी ज्यादा जरूरत रहती है।

विटामिन की खान है देसी घी

कार्डियोलॉजी के एसोसिएट डायरेक्टर बी.एल.अग्रवाल ने बताया, देसी घी में सैच्युरेटेड फैटी एसिड पाए जाते हैं और इसमें विटामिन ए, ई और के2 भी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। इसमें कॉन्जुगेटेड लिनोलेइक एसिड और ब्यूटिरिक भी पाई जाती है और इन दोनों के कई शक्तिशाली स्वास्थ्य लाभ हैं। एक सामान्य वयस्क प्रतिदिन 1-2 चम्मच घी का सेवन कर सकता है।

इसे भी पढ़ें :

तीखे पर निराले हैं यहां के जायके, हैदराबाद आकर इन डिशेज को जरूर चखें

दालचीनी आपको रखेगी हमेशा जवान, ऐसे करें इस्तेमाल

युवावस्था रखे कायम

एक ग्लास दूध में एक चम्मच गाय का देसी घी और मिश्री मिलाकर पीने से शारीरिक और मानसिक कमज़ोरी दूर होती है। गर्भवती महिला के घी खाने से उसका बच्चा मज़बूत और बुद्धिमान बनता है। इतना ही नहीं काली गाय का घी खाने से बूढ़ा इंसान भी जवान नजर आने लगता है।

वजन करता है कंट्रोल

घी में एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जो शरीर के वजन को नियंत्रित रखने में मदद करता है। शरीर का वजन नियंत्रित हो तो किसी तरह की बीमारी कि चिंता भी नहीं सताती।

आंखों के लिए है फायदेमंद

अगर कोई आंखों की किसी समस्या से पीड़ित है तो उसे एक चम्मच गाय के घी में एक चौथाई काली मिर्च मिलाकर सुबह खाली पेट व रात को सोते समय खाना चाहिए। इसके बाद एक ग्लास ग्रम दूध पीना चाहिए।

थकान और कमजोरी होती है दूर

शरीर में कमजोरी या थकान महसूस होने पर एक ग्लास गुनगुने दूध में घी मिलाकर पीने से थकान और कमज़ोरी बहुत जल्दी दूर हो जाती है।

इसे भी पढ़ें :

पंजाबी जायके के साथ पंजाब की खूबसूरती का मजा मिलेगा यहां

पाचन क्रिया होती है ठीक

घी पेट के एसिड्स के बहाव को बढ़ाने का काम करता है. जिससे पाचन क्रिया ठीक होती है। देशी घी शरीर में जमा फैट को गलाकर विटामिन में बदलने का काम करता है। खाने में देशी घी मिलाकर खाने से खाना जल्दी डाइजेस्ट होता है और मेटाबॉल्जिम की प्रक्रिया को बढ़ाता है।

हालांकि विशेषज्ञों का यह भी कहना है कि लंबे समय तक इसकी अधिक मात्रा में सेवन करने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर में वृद्धि होती है, जिसके कई नुकसान हैं।

Advertisement
Back to Top