मुंबई : गायिका सोना मोहपात्रा ने संगीतकार अनु मलिक के खिलाफ आवाज उठाने पर उनका समर्थन करने के लिये सोमवार को अभिनेत्री तनुश्री दत्ता का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि 'मीटू' आंदोलन अब भी खत्म नहीं हुआ है।

मलिक पर कई महिलाओं ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। मलिक पर सबसे पहले पिछले साल मीटू मुहिम के दौरान आरोप लगा था और इसके बाद सोनी टीवी पर प्रसारित होने वाले रियलिटी टीवी शो के जज के तौर पर भी उन्हें कुछ वक्त के लिये हटा दिया गया था।

गायिका श्वेता पंडित और नेहा भसीन समेत कई कुछ महिलाओं ने संगीतकार पर आरोप लगाए थे। इस साल सितंबर में उनके कार्यक्रम में फिर जज के तौर पर आने के बाद आरोप चर्चा में आ गए।

तनुश्री ने एक अखबार में मोहपात्रा और अन्य की मलिक के खिलाफ अच्छे से लड़ाई लड़ने के लिये सराहना की थी। तनुश्री को भारत में फिल्म जगत में मीटू मुहिम की शुरुआत करने का श्रेय दिया जा सकता है।

मोहपात्रा ने तनुश्री के बयान पर कहा कि वह चैनल के 'दोहरे मानदंड' को लेकर अभिनेत्री की आलोचना से ''गौरवान्वित'' महसूस कर रही हैं।

इसे भी पढ़ें :

दीपिका के एक्स-बॉयफ्रेंड से शादी कर चर्चा में थी नीति मोहन, जानिए अब कैसी है उनकी लाइफ

बीच सड़क बदमाशों ने एक्ट्रेस के ऊपर फेंका एसिड, चीखते हुए जमीन पर तड़पने लगी

गायिका ने अपने फेसबुक पर लिखा, 'मेरी अपनी लड़ाई किसी एक शख्स के खिलाफ नहीं है, लेकिन उस पूरी व्यवस्था से है जो यौन उत्पीड़न को सामान्य मानती है और ऐसे व्यवहार को बढ़ावा देती है। मैं आसानी से थकने या भागने वाली नहीं हूं, मैं एक लड़ाई भले ही हार जाऊं लेकिन अंतत: युद्ध जीता जाएगा।'

मोहपात्रा ने कहा कि मलिक को शो से हटाया जाना भारत में महिलाओं और बच्चों के बेहतर और सुरक्षित भविष्य व सकारात्मक बदलाव के लिये लड़ रहे लोगों के लिये 'प्रतीकात्मक जीत' होगी।