आंध्र प्रदेश को पुलिसराज में बदल दिया गया है : रामगोपाल वर्मा

मीडिया से रूबरू होते हुए रामगोपाल वर्मा - Sakshi Samachar

हैदराबाद : फिल्म निर्देशक रामगोपाल वर्मा (आरजीवी) ने विजयवाडा में प्रेस मीट की अनुमति नहीं दिये जाने और गन्नवरम हवाईअड्डे पर रोके जाने की कड़ी शब्दों में निंदा की है।

आरजीवी ने कहा कि आंध्र प्रदेश को पुलिसराज में बदल दिया गया है। साथ ही सवाल किया कि विजयवाडा में प्रेस मीट नहीं करने का मतलब क्या विजयवाडा को नहीं आना चाहिए? क्या विजयवाडा नार्थ कोरिया है? क्या आंध्र प्रदेश को आना हो तो वीजा लेना चाहिए? आरजीवी ने सोमवार को प्रसाद लैब में मीडिया से यह बातें कही।

उन्होंने यह भी सवाल किया कि वाईएसआर कांग्रेस पार्ट के अध्यक्ष वाईएस जगन मोहन रेड्डी पर जब चाकु से हमला किया गया तब पुलिस ने कहा था कि विशाखा एयर पोर्ट में सुरक्षा की जिम्मेदारी हमारी नहीं है। अब किस अधिकार से पुलिस ने मुझे गन्नवरम एयरपोर्ट में रोका है? आरजीवी ने सवाल किया कि आंध्र प्रदेश में प्रेस मीट की अनुमति नहीं देने का क्या मतलब है। क्या हम लोकतंत्र देश में है और निरंकुश शासन में है?

इसे भी पढ़ें :

Lakshmi’s NTR के लिए सड़क पर प्रेस-मीट करेंगे रामगोपाल वर्मा

रामगोपाल वर्मा का चंद्रबाबू से सवाल, कहा- ‘क्या मैं आतंकवादी हूं कि मुझे बंदी बनाया गया’

आरजीवी ने कहा, “लक्ष्मीस एनटीआर फिल्म को लेकर प्रेस मीट करने की अनुमति क्यों नहीं दिया जा रहा है कुछ समझ में नहीं आ रहा है। फिल्म के बारे में सब कुछ बता चुका हूं। नया कुछ भी बताने को नहीं है।

फिल्म के प्रमोशन के लिए पूछे तो कोई भी नहीं स्पष्ट जवाब नहीं दे रहे हैं। वरिष्ठ अधिकारियों से बात करने के लिये तैयार हूं। मगर इसके लिए भी कोई जवाब नहीं दे रहा है। मुझे बताया कि ऊपर से आदेश है। क्या एपी में प्रेस मीट करने की भी आजादी नहीं है। लक्ष्मीस एनटीआर 1 मई को रिलीज होगी। हम कैसे प्रमोशन कर सकते है? एपी को आने के लिए क्या वीजा लेना चाहिए?”

Advertisement
Back to Top