अमरावती : एपी हाईकोर्ट ने विवादास्पद निर्देशक रामगोपाल वर्मा की 'लक्ष्मी'स एनटीआर' के रिलीज पर आगामी 9 अप्रैल तक स्थगनादेश दिया है। इसके चलते एपी के दर्शक फिल्म लक्ष्मी’स एनटीआर नहीं देख पाएंगे।

आपको बता दें हाईकोर्ट ने गत 27 मार्च को सुनवाई करने के बाद लक्ष्मी'स एनटीआर 3 मार्च तक स्थगित किया था। तब कोर्ट ने यह भी कहा था कि फिल्म की प्रिव्यू देखने के बाद रिलीज को लेकर फैसला दिया जाएगा।

इसी क्रम में फिल्म के निर्माता राकेश ने फिल्म की प्रिव्यू दिखाने के लिए आज हाईकोर्ट में हाजिर हुए। मगर हाईकोर्ट ने कहा कि यह मामला सुप्रीम कोर्ट में लंबित है। इस बात को ध्यान में रखते हुए इस फिल्म की प्रिव्यू देखना उचित होगा और न ही रिलीज पर किसी प्रकार का फैसला दिया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें :

‘लक्ष्मी’स NTR’ को देखने एपी के दर्शक क्यों आ रहे हैं तेलंगाना, जानिए वजह

‘लक्ष्मी’स एनटीआर’ के निर्माता राकेश रेड्डी ने खटखटाया SC दरवाजा, बोले-न्याय मिलेगा

हाईकोर्ट के फैसले से फिल्म के निर्माता राकेश रेड्डी और निर्देशक रामगोपाल वर्मा ने फिल्म को हो रही नुकसान का उल्लेख करते हुए एक और याचिका दायर करने की तैयार में जुट गये है।

इसे भी पढ़ें :

Lakshmi’s NTR में कौन सा कैरेक्टर निभा रहा ये कलाकार? RGV ने लोगों से किया सवाल

रामगोपाल वर्मा की ‘लक्ष्मीज एनटीआर’ पर फिर लगी रोक

गौरतलब है कि राकेश रेड्डी के अधिवक्ता सुधाकर रेड्डी ने सुप्रीम कोर्ट से आग्रह किया कि फिल्म के रिलीज को लेकर लगाये गये प्रतिबंध को हटाने के लिए शीघ्र ही इस मामले की आपातकालीन सुनवाई की जाए। मगर सुप्रीम कोर्ट ने अधिवक्ता के आग्रह को ठुकरा दिया। कोर्ट ने कहा कि इस मामले की आपातकालीन सुनवाई की जरूरत नहीं है।

आपको बता दें कि एपी हाईकोर्ट ने लक्ष्मीस एनटीआर के आंध्र प्रदेश में रिलीज को आगामी 3 अप्रैल तक स्थगानादेश दिया है। हाईकोर्ट ने कहा कि फिल्म की प्रिव्यू देखने के बाद ही अंतिम फैसला सुनाया जाएगा।