शिमला : अभिनेता जितेंद्र पर आज उनकी एक रिश्तेदार ने 47 वर्ष पहले यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया। हालांकि साठ के दशक के स्टार अभिनेता रहे जितेंद्र ने आरोप को ‘‘निराधार और बेतुका'' बताते हुए खारिज कर दिया।

शिकायतकर्ता ने हिमाचल प्रदेश के पुलिस महानिदेशक को दी गई शिकायत में कहा है कि घटना शिमला में जनवरी 1971 में हुई थी जब वह 18 वर्ष की थीं जबकि अभिनेता की आयु 28 वर्ष थी।

जया की इस अदा पर फिदा हुए थे अमिताभ, भारी बारिश में हुई थी शादी

भारत के अलावा इन देशों में भी एक ही दिन रिलीज होगी ‘पैडमैन’

शिकायतकर्ता ने कहा कि जितेंद्र ने पीड़ित के लिए नयी दिल्ली से शिमला आने की ‘‘व्यवस्था'' की थी ताकि वह उस सेट पर आ सके जहां वह एक फिल्म की शूटिंग कर रहे थे। शिकायतकर्ता ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि रात में शिमला पहुंचने पर जितेंद्र नशे की हालत में उसके कक्ष तक पहुंचे तथा दो बिस्तरों को आपस में जोड़ा और उसका यौन उत्पीड़न किया।

अभिनेता ने इस बात से इनकार किया कि ऐसी कोई घटना हुई थी। पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं हुई है क्योंकि शिकायत डीजीपी को ईमेल की गई है। जितेंद्र के वकील रिजवान सिद्दिकी ने मुम्बई में जारी एक बयान में कहा कि आरोप ‘‘निराधार और बेतुका'' है। उन्होंने एक बयान में कहा, ‘‘ सबसे पहले मेरे मुवक्किल ऐसी किसी भी घटना से इनकार करते हैं। इसके अलावे ऐसे निराधार, बेतुके और मनगढ़ंत दावों पर किसी अदालत या कानून प्रवर्तन एजेंसी द्वारा लगभग 50 वर्ष के अंतराल के बाद गौर नहीं किया जा सकता।''