इस दमदार बिजनेस में कमाएं लाखों रुपए, इन्वेस्टमेंट और रिस्क है कम 

मुर्गी पालन व्यवसाय - Sakshi Samachar

नई दिल्ली: अगर आप व्यवसाय में हाथ आजमाना चाहते हैं। तो यहां बताई योजना के मुताबिक आप धंधे की शुरुआत कर सकते हैं। प्रोफेशन तरीके से शुरू किए इस बिजनस में आमदनी की पूरी गारंटी है।

जी हां, मुर्गी पालन ऐसा व्यवसाय है जिसमें घाटे की गुंजाइश कम ही होती है। अच्छी बात ये कि मुर्गी पालन या कुक्कुट पालन का व्यवसाय कम पूंजी में भी शुरू किया जा सकता है।

शुरुआती पूंजी करीब 5 से 9 लाख रुपए लगाकर आप मुर्गी पालन का व्यवसाय प्रारंभ कर सकते हैं। शुरुआत में कम से कम 1500 मुर्गियों को लेकर फार्मिंग शुरू करें तो 50 हजार से एक लाख रुपए तक की आमदनी की उम्मीद आप कर सकते हैं।

मुर्गी पालन व्यवसाय

मुर्गी पालन के व्यवसाय में आपको मुर्गियों के लिेए पारंपिक पिंजरों की खरीद करनी होगी। जो इस बनावट के हों कि आपको साफ सफाई रखने में दिक्कत नहीं हो। साथ ही मुर्गियों के बीट का इस्तेमाल आप खाद के तौर पर भी कर सकते हैं।

अगर 1500 मुर्गियों के साथ आप बिजनेस शुरू करने की इच्छा रखते हैं तो कम से कम दस फीसदी अधिक चूजों की आपको खरीद करनी होगी। दरअसल कई बार बीमारियों के चलते असमय मुर्गियों की मौत हो जाती है।

मुर्गी पालन व्यवसाय

यह भी पढ़ें:

“अंडा शाकाहारी है या मांसाहारी?” -मिल गया जवाब

ऐसा भी होता है कि फ्लू या अन्य आकस्मिक वजहों से मुर्गियों की पूरी खेप ही समाप्त हो जाय। ऐसी आकस्मिक परिस्थियां सोचकर घबराने की जरूरत नहीं है। सरकार ने मुर्गी पालन के लिए कई बीमा योजनाएं चला रखी हैं। गैर सरकारी स्तर पर भी आप इंश्योरेंस ले सकते हैं। अगर एकबारगी आपकी सभी मुर्गियां मर जाती है तो आपकी क्षति पूर्ति की भरपाई बीमा करने वाली एजेंसी करेगी।

मुर्गी पालन व्यवसाय

1500 के करीब चूडों की खरीद में आपको 50 हजार रुपए खर्च करने हो सकते हैं। बाकी खर्च इनके रखरखाव, दानों और दवाइयों पर होता है। 20 हफ्तों तक 1500 मुर्गियों के खिलाने पिलाने का खर्चा एक से सवा लाख तक होगा। हालांकि इसके बाद ये खर्च बढ़कर करीब तीन लाख रुपए हो सकता है।

20 हफ्ते बाद मुर्गियां अंडे देना शुरू कर देती है। यानी इस बिजनेस में आपकी आय का दरवाजा खुल जाता है। अच्छी बात ये कि मुर्गियां करीब सालभर अंडे देती हैं।

Advertisement
Back to Top