वसंत पंचमी 2020: इस दिन राशि अनुसार करेंगे मां सरस्वती की पूजा तो दूर होंगे कष्ट और मिलेगा शुभ फल  

डिजाइन फोटो  - Sakshi Samachar

हम सब जानते ही हैं कि माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी को वसंत पंचमी का त्योहार मनाया जाता है। इस बार वसंत पंचमी 29 जनवरी, बुधवार को है। इस दिन मां सरस्वती की विशेष पूजा-उपासना की जाती है और माना जाता है कि इससे विद्या-बुद्धि का वरदान मिलता है।

मंदिरों के साथ ही शिक्षण संस्थानों में भी मां सरस्वती की पूजा की जाती है क्योंकि इससे विद्या का वरदान मिलता है। इस दिन खासतौर से पीले फूल, पीले भोग मां सरस्वती को चढ़ाया जाता है साथ ही पूजा करने वाले भक्त भी पाले वस्त्र ही धारण करते हैं।

माना जाता है कि अगर इस दिन राशि अनुसार मां सरस्वती की पूजा की जाए तो विद्या-बुद्धि का वरदान तो मिलता ही है साथ ही और भी कई तरह के शुभ फल प्राप्त किये जा सकते हैं।

तो आइये यहां जानते हैं कि राशि अनुसार कैसे की जाए मां सरस्वती की पूजा ...

मेष -इस राशि के जातकों को वसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा में लाल पुष्प और सफेद तिल अर्पित करने चाहिए। ऐसा करने से आपको चंचलता और मन के भटकाव से मुक्ति मिलेगी और आप अपनी पढ़ाई को एकग्रता के साथ कर पाएंगे।

साथ ही इस राशि के जातकों को वसंत पंचमी के दिन सरस्वती मां की पूजा के दौरान सरस्वती कवच पाठ जरूर करना चाहिए। अगर विद्यार्थी ऐसा करते हैं तो उन्हें बुद्धि की प्राप्ति होगी।

सोशल मीडिया के सौजन्य से 

वृषभ- वसंत पंचमी के दिन वृषभ राशि के जातकों को मां सरस्वती की पूजा में नीली स्याही और अक्षत मां सरस्वती को अर्पण करने चाहिए। इससे आपकी जिद और कठोरता में कमी आएगी और आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए अपने काम में पूरी तरह से फोकस कर पाएंगे।

इसके अलावा इस राशि के जातक वसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती को प्रसन्न करने के लिए उन्हें सफेद चंदन का तिलक लगाएं और फूल अर्पित करें। ऐसा करने से आपके ज्ञान में बढ़ोतरी होगी और जो भी समस्याएं हैं, उनसे निजात मिलेगी।

मिथुन- मिथुन राशि के जातकों को वसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा में सफेद पुष्प और पुस्तकें मां सरस्वती को अर्पित करनी चाहिए और बाद में उन पुस्तकों को दान कर देना चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो आपके सामने भ्रम की स्थिति पैदा नहीं होगी और आप सही समय सही फैसले ले पाएंगे।

साथ ही इस राशि के जातक मां सरस्वती को हरे रंग का पेन (कलम) अर्पित करें और उससे ही अपनी सभी कार्यों को पूरा करें। अगर आप ऐसा करते हैं तो आपकी लिखने संबंधी समस्याएं समाप्त हो जाएंगी।

कर्क- कर्क राशि के जातकों को वसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा में उन्हें पीले पुष्प और सफेद चंदन अर्पित करने चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो आप अपनी भावनाओं पर नियंत्रण रख पाएंगे और किसी भी फैसले को आसानी से ले सकेंगे।

इसके अलावा इस राशि के जातकों को छात्रों को वसंत पंचमी पर मां सरस्वती को खीर का भोग लगाना चाहिए। संगीत क्षेत्र से ताल्लुक रखने वाले छात्रों को ऐसा करने से बहुत अधिक फायदा होगा।

सिंह- वसंत पंचमी के दिन सिंह राशि के जातकों को मां सस्वती को पूजा में कनेर के पुष्प और धान का लावा अर्पित करना चाहिए। ऐसा करने से आपको अपनी शिक्षा में आ रही सभी प्रकार की बाधाओं से मुक्ति प्राप्त होगी और आपको अपनी योग्यता के अनुसार अनुकूल फलों की प्राप्ति होगी।

इसके अलावा वसंत पंचमी के दिन सिंह राशि के छात्र मां सरस्वती की पूजा के दौरान गायत्री मंत्र का जाप जरूर करें। ऐसा करने से विदेश में रहकर पढ़ाई करने वाले छात्रों की इच्छा पूरी हो जाएगी।

कन्या- कन्या राशि के जातकों को वसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती को पूजा में कलम और दवात के साथ सफेद पुष्प अर्पित करने चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो आप लालच में नहीं आएंगे और अपनी बुद्धि का सही तरह से उपयोग भी कर सकेंगे।

साथ ही इस राशि के छात्र को वसंत पंचमी पर गरीब बच्चों में पढ़ने की सामग्री बांटें, जिसमें पेन, पेंसिल किताबें आदि शामिल हों। अगर आप ऐसा करते हैं तो पढ़ाई में आ रही आपकी परेशानी को दूर किया जा सकता है।

सोशल मीडिया के सौजन्य से 

तुला- वसंत पंचमी के दिन तुला राशि के जातकों को मां सरस्वती को पूजा में नीले रंग की कलम, शहद और नीले रंग की स्याही अर्पित करनी चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो आपका मन नहीं भटकेगा और आप अपनी विद्या को ग्रहण करने में भी पूरी मेहनत करेंगे।

वसंत पंचमी के मौके पर तुला राशि के विद्यार्थी किसी ब्राह्मण को सफेद कपड़े दान में दें। यदि छात्र ऐसा करते हैं तो उन्हें वाणी से जुड़ी किसी परेशानी से निजात मिल सकती है और आपकी वाणी में मधुरता आएगी।

वृश्चिक- वसंत पंचमी के दिन वृश्चिक राशि के जातकों को मां सरस्वती को पूजा में हल्दी और सफेद रंग के वस्त्र अर्पित करने चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो आपके अंदर का अहंकार समाप्त होगा और आप प्रतियोगी परिक्षाओं में सफलता हासिल कर पाएंगे।

इस राशि के छात्रों को अगर याद्दाश्त से संबंधित कोई परेशानी है तो इसे आप मां सरस्वती की आराधना करके दूर कर सकते हैं। मां सरस्वती की पूजा के बाद लाल रंग का पेन उन्हें अर्पित करें।

धनु- वसंत पंचमी के दिन धनु राशि के जातकों को मां सरस्वती को पूजा में रोली और नारियल जरूर अर्पित करना चाहिए। ऐसा करने से आपके जीवन के संघर्षों में कमी आएगी और आप अपने सभी कार्यों को शांत मन से कर पाएंगे। जिससे आपको जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में सफलता प्राप्त होगी।

इस राशि के छात्रों को वसंत पंचमी पर पीले रंग की कोई मिठाई अर्पित करें। ऐसा करने से आपकी निर्णय लेने की क्षमता बढ़ जाएगी। साथ ही आपकी उच्च शिक्षा की इच्छा भी मां सरस्वती अवश्य पूरी करेंगी।

मकर- मकर राशि के जातको कों बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती को चावल की खीर भोग लगाना चाहिए। ऐसा करने से आपको उच्च शिक्षा में आ रही सभी प्रकार की बाधाओं से मुक्ति मिल जाएगी। इतना ही नहीं ऐसा करने से आपको मां सरस्वती की विशेष कृपा भी प्राप्त होगी।

इस राशि के छात्र वसंत पंचमी पर निर्धन व्यक्तियों को सफेद रंग का अनाज दान में दें। ऐसा करने से मां सरस्वती की कृपा से आपके बुद्धिबल में विकास होगा।

इसे भी पढ़ें :

वसंत पंचमी 2020: जानें आखिर इस दिन पीले वस्त्र ही क्यों पहने जाते हैं, क्या है इसका महत्व

वसंत पंचमी 2020: जानें कब है वसंत पंचमी और इस दिन क्यों होती है मां सरस्वती की पूजा

कुंभ-वसंत पंचमी के दिन कुंभ राशि के जातकों को मां सरस्वती को पूजा में मिश्री से बनी किसी भी चीज का भोग लगाना चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो आपको अपना लक्ष्य निर्धारित करने में जो समस्या आ रही है आपको उससे मुक्ति प्राप्त होगी।

वसंत पंचमी पर कुंभ राशि वाले विद्यार्थी गरीब बच्चों में स्कूल बैग और दूसरी जरूरी चीजों को बांटें। मां सरस्वती की कृपा आप पर बनी रहेगी और आपका आत्म विश्वास भी बढ़ जाएगा।

मीन- इस राशि के जातकों को वसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती को पंचामृत अर्पित करना चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो आपके ज्ञान में और भी अधिक वृद्धि होगी। इतना ही नहीं यदि आप ऐसा करते हैं तो आप अपने ज्ञान का सही उपयोग भी कर सकेंगे।

इसके अलावा इस राशि के लोग छोटी कन्याओं में पीले रंग के कपड़ों का वितरण करें। अगर आप ऐसा करेंगे तो आपके करियर में आने वाली सभी समस्याओं का निवारण हो जाएगा। आपके ऊपर मां सरस्वती का आशीर्वाद बना रहेगा।

Advertisement
Back to Top