मकर संक्रांति के त्योहार पूरे धूमधाम के साथ मनाया गया और इसके साथ ही सूर्य देव उत्तरायण भी हो गए। सूर्य देव के मकर राशि में प्रवेश के साथ ही खरमास समाप्त हो गया और 16 जनवरी से मंगलकार्य आरंभ हो गए।

खरमास में पूरे एक माह तक मंगलकार्यों पर रोक लग जाती है। आज से ये सारे मंगलकार्य आरंभ हो चुके हैं। अब विवाह, मुंडन, उपनयन संस्कार, गृह प्रवेश आदि शुभ कार्यों के लिए मुहूर्त निकाले जा सकते हैं।

खरमास का समापन

मलमास या खरमास का प्रारंभ 16 दिसंबर 2019 से प्रारंभ हुआ था, तब से एक माह के लिए शुभ कार्य वर्जित हो गए थे। 15 जनवरी के तड़के भगवान सूर्य के 02 बजकर 08 मिनट पर मकर राशि में प्रवेश करते ही मलमास या खरमास का समापन हो गया है। मलमास या खरमास 16 दिसंबर 2019 से 14 जनवरी 2020 रात्रि तक था।

ज्योतिषाचार्य के अनुसार बृहस्पति के अस्त होने से 3 दिन पहले वृद्धत्व दोष और उदय होने के 3 दिन बाद तक बाल्यत्व दोष रहता है। इसलिए नए साल में शादी का पहला मुहूर्त भी 16 जनवरी को हो गया है। गुरु अस्त होने और धनु मलमास के चलते 16 दिसंबर से मांगलिक कार्य बंद थे।

तीन दिन बाद तक बाल्यत्व दोष

11 जनवरी को 7:30 बजे पूर्व दिशा से गुरु का उदय हुआ है। इसके तीन दिन बाद तक बाल्यत्व दोष था। बाल्यत्व दोष के साथ धनु मलमास की भी समाप्ति हो गई है। 25 दिन तक अस्त रहने के बाद अब पूरे साल ये ग्रह अस्त नहीं होगा। 16 जनवरी से विवाह, गृहप्रवेश, मुंडन, कुआ पूजन, उपनयन संस्कार सहित शुभ कार्य शुरू हो रहे हैं।

मिलेगा बृहस्पति का शुभ फल

5 नवंबर से बृहस्पति स्वयं की राशि धनु में था। इसके बाद 17 दिसंबर को सूर्य से 11 अंश और उससे पास आ जाने पर ये ग्रह अस्त हो गया था। जिससे इससे शुभ प्रभाव में कमी आ गई थी। लेकिन अब बृहस्पति का उदय हो जाने से मेष, मिथुन, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, कुंभ और मीन राशि वालों को इसका शुभ फल मिलने लगेगा।

जानिये इस वर्ष 2020 में किस माह में कब-कब विवाह के शुभ मुहूर्त हैं ....

जनवरी: इस माह में विवाह के कुल 9 मुहूर्त हैं। 16, 17, 18, 19, 20, 21, 29, 30 और 31 तारीख।

फरवरी: इस माह में
शादी के लिए कुल 16 मुहूर्त मिल रहे हैं। 3, 4, 5, 9, 10, 11, 12, 13, 14, 16, 17, 18, 20, 25, 27 और 28।

सोशल मीडिया के सौजन्य से 
सोशल मीडिया के सौजन्य से 

मार्च: तीसरे माह में विवाह के कुल 9 मुहूर्त हैं। 2, 3, 7, 8, 9, 10, 11, 12 और 13।

अप्रैल: चौथे माह में विवाह के लिए केवल 4 शुभ मुहूर्त है। 14, 15, 25 और 26।

जून: जून में विवाह के लिए विवाह के 9 मुहूर्त हैं। 13, 14, 15, 25, 26, 27, 28, 29 और 30।

इसे भी पढ़ें :

मंगलकार्य में आ रही बाधा तो गुरुवार को करें ये खास उपाय, मिलेगा शुभ फल

गुरुवार को ऐसे करेंगे भगवान विष्णु की पूजा तो मिलेगा शुभ फल

नवंबर: साल के 11वें माह में विवाह के केवल 3 मुहूर्त हैं। 26, 29 और 30।

दिसंबर: साल 2020 के आखिरी माह में विवाह के 8 मुहूर्त हैं। 1, 2, 6, 7, 8, 9, 10 और 11।