Dhanteras 2019 : धनतेरस पर इन सामानों का खरीदना माना जाता है अशुभ, भूलकर न करें यह गलती

डिजाइन इमेज - Sakshi Samachar

दीपों का पर्व दीपावली से पहले घरों में धनतेरस की तैयारी तेज हो गई है। दीपावली के पांच महापर्व की शुरुआत धनतेरस से होती है। धन, संपदा और वैभव से जुड़े इस पर्व की अनेक मान्यताएं हैं। हिंदू संस्कृति में धनतेरस के दिन घर में सौभाग्य और वैभव का वास होता है। इसलिए इस दिन विशेष पूजा का प्रावधान है।

मान्यता है कि धनतेरस पर खरीदारी से घर में समृद्धि और सौभाग्य का आगमन होता है, लेकिन कोई भी सामान खरीदने से पहले यह जरूर ध्यान दें कि यह आपके लिए शुभ है या नहीं, या फिर इन वस्तुओं को घर लाना चाहिए या नहीं। हम आपको बताते हैं कि इस धनतेरस भूलकर भी यह सामान घर न लाएं।

आज के दिन न खरीदें सोना

धनतेरस पर अक्सर लोग खरीदारी में सोने की वस्तु को प्राथमिकता देते हैं। लेकिन ऐसा भूलकर भी ना करें। धनतेरस के दिन सोना खरीदने से घर में चंचलता आती है और लक्ष्मी का वास नहीं होता है। इस दिन पीतल या चांदी की वस्तु घर लाएं।

मान्यता है कि पीतल भगवान धनवंतरि की धातु है, जिससे घर में आरोग्य, सौभाग्य और बेहतर स्वास्थ्य की प्राप्ति होती है, जबकि चांदी कुबेर की धातु है, इससे घर में यश, कीर्ति और ऐश्वर्य संपदा में वृद्धि होती है।

सेहत पर पड़ता है बुरा असर

दिवाली पर घर को सजाने के लिए लोग अक्सर धनतेरस पर कांच का सामान घर लाते हैं, लेकिन क्या आपको मालूम है कि यह खरीदारी महंगी पड़ सकती है। शीशे को राहु का परिचायक माना गया है। मान्यता है कि इस दिन कांच खरीदने से घर में दरिद्रता आती है, साथ ही स्वास्थ्य संबंधी कई तरह की दिक्कतें होती हैं।

यह भी पढ़ें :

स्कंदषष्ठी पर यूं करें भगवान स्कंद की पूजा, सफलता के साथ संतानसुख की होगी प्राप्ति

कर रहे हैं दिवाली की सफाई तो इन चीजों को करें घर से बाहर, तभी मां लक्ष्मी करेंगी गृह प्रवेश

इन वस्तुओं से भी बनाएं दूरी

धनतेरस के दिन चाकू, कैंची, छुरी और खासकर लोहे के बर्तन ना खरीदें। इसे भी राहु से संबंधित धातु माना गया है। लोहे के बर्तन लाने से घर में कष्ट का आगमन होता है। इसलिए भूलकर भी इस दिन इन सामान को घर ना लाएं।

Advertisement
Back to Top