करवा चौथ पर इन मंत्रों का करें जाप और पाएं पूजा का शुभ फल   

करवा चौथ की पूजा का महत्व  - Sakshi Samachar

करवा चौथ का त्योहार कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को मनाया जाता है। इस दिन सुहागिन महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए निर्जला व्रत रखती हैं।

दिन भर निर्जला व्रत रखकर शाम के समय महिलाएं करवा पूजा करती हैं, कथा सुनती हैं। गौरा से सुहाग लेकर तथा उगते चंद्रमा को अर्घ्य देकर अपने सुहाग की अटलता की कामना करती हैं।

करवा पूजा के समय सुहागिन महिलाएं इन मंत्रों का जाप करेंगी तो अवश्य ही उन्हें सौभाग्य की प्राप्ति होगी क्योंकि इस दिन इन मंत्रों का जाप करना अत्यंत फलदायी माना जाता है।

ओम गणेशाय नमः

गणेश पूजन के समय इस मंत्र का जाप करने से आपको सुख की प्राप्ति होती है ।

ओम नमः शिवाय

ओम शिवायै नमः

शिव जी की पूजा के दौरान इस मंत्र का जाप करने से आपके वैवाहिक जीवन में खुशहाली आती है ।

महिलाएं करती हैं शाम में पूजा 

ओम अमृतांदाय विदमहे कलारूपाय धीमहि तत्रो सोम: प्रचोदयात

ओम षण्मुखाय नमः

ओम सोमाय नमः

इसे भी पढ़ें :

करवा चौथ पर किये जाते हैं चौथ माता के दर्शन, इस मंदिर में लगता है सुहागिनों का मेला

करवा चौथ पर चाहती हैं मेंहदी का गहरा रंग तो अपनाएं ये खास टिप्स

चंद्रमा पूजन के दौरान इस मंत्र के जाप से आपके जीवन की सभी परेशानियों का निवारण हो जाता है ।

पूजा करते समय जरूर करें मंत्र जाप 

इस बार जब चंद्र को अर्घ्य दें तो यह मंत्र अवश्य बोलें....

करकं क्षीरसंपूर्णा तोयपूर्णमयापि वा।

ददामि रत्नसंयुक्तं चिरंजीवतु मे पतिः॥

इति मन्त्रेण करकान्प्रदद्याद्विजसत्तमे।

सुवासिनीभ्यो दद्याच्च आदद्यात्ताभ्य एववा।।

एवं व्रतंया कुरूते नारी सौभाग्य काम्यया।

सौभाग्यं पुत्रपौत्रादि लभते सुस्थिरां श्रियम्।।

इन मंत्रों के जाप से आपकी पूजा शुभ फलदायी हो जाएगी और आपको मनचाहा वरदान मिलेगा।

Advertisement
Back to Top