हैदराबाद : पिछले कुछ दशकों से देश-दुनिया में महिलाओं में तेजी से बढ़ते कैंसर के प्रति लोगों में जागरूकता लाने के लिए कई अभियान चलाए जा रहे हैं। इसी कड़ी में भारत की बैडमिंटन सनसनी पी.वी. सिंधु ने भी ब्रेस्ट कैंसर का समय रहते पता लगाने और उसके बारे में लोगों में चेताना लाने के उद्देश्य से उषालक्ष्मी ब्रेस्ट कैंसर फाउंडेशन के जरिए एक अभियान शुरू किया है।

ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण और उसके प्रति सावधानी बरतने के लिए प्रोद्योगिकी आधारित एक ऐप तैयार किया गया है और इस ऐप का नाम लाइफ साइज आगमेंटेड रियलिटी रखा गयाहै। उषालक्ष्मी ब्रेस्ट कैंसर फाउंडेशन के निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉक्टर रघु राम के मुताबिक इस प्रौद्योगिकी के सहारे उपयोगकर्ता किसी लोकप्रिय शख्सियत या डॉक्टर को इस पर बात करते हुए देख सकते हैं। उन्होंने बताया कि यह तकनीक ऐसा प्रभाव गढ़ती है जिसमें उपयोगकर्ता को ऐसा लगता है।

एक कार्यक्रम को संबोधित करती पी.वी. सिंधु 
एक कार्यक्रम को संबोधित करती पी.वी. सिंधु 

पी.वी. सिंधु का मानना है कि इस ऐप के जरिए फाउंडेशन की तरफ से चलाए जा रहे जागरूकता अभियान से कई लोगों की जिन्दगियां बच सकती हैं। उन्होंने कहा कि अगर उनकी पापुलारिटी लोगों में ब्रेस्ट कैंसर के प्रति जागरूकता फैलाने में मददगार होगी तो वह खुद को भाग्यशाली समझेंगी।

पी.वी. सिंधु इससे पहले भी ब्रेस्‍ट कैंसर को लेकर लोगों को जागरूक करने के मिशन से जुड़ी रही है। ओलंपिक खेलों की रजत पदक विजेता सिंधु लोगों में ब्रेस्‍ट कैंसर के प्रति जागरूकता लाने के लिए ब्रिजस्टोन पिंक वॉल्व कैप डोनेशन ड्राइव में सहयोग दिया था। तीन माह तक चले अभियान में यह स्टार शटलर टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल, मुंबई के लिए धन एकत्रित किया था, जो गरीब मरीजों को कैंसर का इलाज व देखभाल प्रदान करने के लिए विशेषज्ञ कैंसर उपचार तथा शोध केंद्र है।

सिंधु ने ब्रिजस्टोन इंडिया तथा महिलाओं की सेहत व सुरक्षा के लिए उनके अभियान से जुड़ने पर हर्ष व्यक्त करते हुए कहा था आंकड़े बताते हैं कि भारत में हर 28 में से एक महिला को ब्रेस्ट कैंसर का खतरा है और यदि इसकी जांच न हो तो उनकी मौत भी होने का खतरा है।