नई दिल्ली: दिल्ली समेत देशभर में रविवार को रमजान का चांद नजर नहीं आया। लिहाजा पहला रोजा मंगलवार को होगा। दिल्ली की शाही फतेहपुरी मस्जिद के इमाम मुफ्ती मुकर्रम अहमद ने भाषा को बताया कि रविवार शाम चांद कमेटी की बैठक हुई थी, जिसमें चांद दिखने की खबर कहीं से नहीं मिली। दिल्ली का आसमान साफ था फिर भी चांद नहीं दिखा।

उन्होंने बताया कि सोमवार को इस्लामी महीने शाबान का 30वां दिन होगा और पहला रमज़ान 7 मई को होगा। यानी पहला रोज़ा मंगलवार को होगा। जामा मस्जिद के इमाम अहमद बुखारी की ओर से जारी बयान के मुताबिक, दिल्ली और देश के अन्य हिस्से में चांद नही दिखा है और कहीं से चांद दिखने की गवाही भी नहीं आयी है।

इसे भी पढ़ें :

Ramadan 2019 : रोजे के दौरान इन बातों का रखें विशेष ख्याल

इमारत ए शरिया हिंद ने भी बयान जारी कर रविवार को चांद नहीं दिखाने और सात मई को पहला रोज़ा होने का ऐलान किया है। रोज़े रखना इस्लाम के पांच स्तंभ में से एक है। हर सेहतमंद इंसान का रमज़ान के रोज़े रखना फ़र्ज़ है।

गौरतलब है कि रमजान इस्लाम धर्म का पाक महीना माना जाता है। एक पवित्र महीने में मुस्लिम रोजा रखते हैं और अल्लाह की इबादत करते हैं। रमजान का महीना खत्म होने पर ईद मनाई जाती है।