मशहूर उपन्यासकार और लेखक चेतन भगत का आजजन्मदिन है। उनका जन्म 22 अप्रैल 1974 दिल्ली में हुआ। उनके पिता एक सेना अधिकारी थे, और उनकी मां कृषि विभाग में एक सरकारी कर्मचारी थीं। चेतन ने प्राइमरी लेवल की पढ़ाई सेना पब्लिक स्कूल से की और इसके बाद 1995 में आईआईटी दिल्ली से इंजीनियरिंग की डिग्री ली। चेतन ने 1997 में आईआईएम अहमदाबाद से MBA किया।

वह अपना 45वां जन्मदिन मना रहें हैं। वह एक भारतीय लेखक और प्रेरणादायक वक्ता हैं, जो अंग्रेजी भाषा में अपने बेहद ही प्रसिद्ध उपन्यासों के लिए जाने जाते हैं।

चेतन का परिवार

चेतन भगत ने 1998 में अनुषा सूर्यनारायणन से शादी की। वह तमिलनाडु से हैं और आईआईएम अहमदाबाद में उनकी क्लासमेट थी। उनके दो बच्चे हैं, जिनका नाम ईशान भगत और श्याम भगत है।

चेतन का करियर

नौ साल के अनुबंध पर इंवेस्टमेंट बैंक की नौकरी करने के चेतन HongKong चले गये और वहां उन्हें लिखने का शौक पैदा हो गया लेकिन उनकी जिंदगी में ऐसी कोई घटना नही घटी थी जिसकी बदौलत वह कुछ लिख पाते। फिर चेतन ने आईआईटी हाॅस्टल की जिंदगी पर लिखना शुरू किया।

चेतन का पहला उपन्यास "फाइव पॉइंट समवन - व्हाट नॉट टू डू एट आईआईटी " (२००४), तीन विद्यार्थियों पर आधारित है जो संस्थान के भारी कार्यभार का सामना कर उससे उभरने की कोशिश करते हैं। यह किताब इंडिया टुडे बेस्टसेलर के लिस्ट में सबसे ज्यादा दिनों तक रही। इस किताब ने २००४ में सोसाइटी यंग अचीवर अवार्ड और २००५ में पब्लिशर रेकोग्निशन अवार्ड जीते।

जाने माने हिन्दी फिल्म निर्माता-निर्देशक राजकुमार हिरानी इस किताब पर एक फिल्म '3 इडियट्स' जिसमें आमिर खान मुख्य भूमिका में हैं।

चेतन भगत
चेतन भगत

चेतन की दूसरी किताब "वन नाइट एट द कॉल सेण्टर" अक्टूबर २००५ में प्रकाशित हुई और जनवरी २००८ तक बेस्टसेलर बनी रही। यह किताब एक कॉल सेण्टर में काम करने वाले ६ लोगों पर आधारित एक रात की कहानी है। इस किताब पर पहले ही २००७ में एक हिन्दी फिल्म "हेलो " बन चुकी है, जिसमें सलमान खान, कैटरिना कैफ, शर्मन जोशी, गुल पनाग जैसे कलाकार काम कर चुके हैं।

"द थ्री मिसटेक्स ऑफ़ माय लाइफ", वर्ष २००८ में प्रकाशित हुई। इस किताब की कहानी सन् २००० के आसपास अहमदाबाद के एक जवान लड़के गोविन्द पटेल की कहानी है जो व्यापार करने का सपना देखता है।

'रिवाल्यूशन 2020' वर्ष २०11 में प्रकाशित हुई। इसका हिन्दी अनुवाद श्री सुशोभित सक्तावत के नाम से रूपा प्रकाशन ने इसी वर्ष 2013 में प्रकाशित किया है

चेतन भगत सर्वाधिक बिकने वाले उपन्यासों के लेखक है, जिनमे फाइव पॉइंट समवन (2004), वन नाईट @ द कॉल सेंटर (2005), द 3 मिस्टेक्स ऑफ़ माय लाइफ (2008), 2 स्टेट्स (2009), रेवोलुशन 2020 (2011), व्हाट यंग इंडिया वांट्स (2012), हाफ गर्लफ्रेंड (2014) और मेकिंग इंडिया ऑसम (2015) शामिल है। ये सभी किताबे बाजार में आते ही प्रसिद्धि के सातवे आसमान पर पहुंच गई थी।

चेतन की किताबों पर फिल्में

चेतन की किताबो में से 4 पर तो बॉलीवुड फिल्म भी बनाई गयी है, उन फिल्मो के नाम अमीर खान की '३ इडीयट्स', 'काई पो चे', '2 स्टेट्स' और 'हेल्लो' है।

2008 में न्यू यॉर्क टाइम्स ने भगत को “भारतीय इतिहास का सर्वाधिक बिकने वाला अंग्रजी भाषा का उपन्यासकार बताया। टाइम्स पत्रिका ने चेतन भगत को दुनिया के 100 सबसे प्रभावशाली लोगो में से एक बताया।

चेतन भगत
चेतन भगत

स्क्रीनप्ले राटर के रूप में

2009 में ही राइटिंग में ज्यादा ध्यान देने के लिये उन्होंने इन्वेस्टमेंट बैंकिंग को छोड़ दिया। 2014 सलमान खान की फिल्म 'किक' से उन्होंने अपने स्क्रीनप्ले करियर की शुरुवात की।

चेतन वॉइस ऑफ़ इंडिया (Voice Of India) स्टार एंकर हंट के निर्णायक भी रह चुके हैं। चेतन भगत ने ABP न्यूज़ पर 7 RCR को भी होस्ट किया था जिसे 11 जनवरी 2014 को दिखाया गया था। उनके इस कार्यक्रम में भारत के प्राइम मिनिस्टर कैंडिडेट की जीवनियों के बारे में बताया जाता था।वे डांस रियलिटी शो नच बलिए के जज रह चुके हैं।

चेतन को मिले सम्मान

2004 में सोसायटी यंग अचीव पुरस्कार।

2005 में प्रकाशक की पहचान पुरस्कार।

टाइम मैगज़ीन की दुनिया के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची 2010 में में शामिल किया गया।

सर्वश्रेष्ठ पटकथा 2014 के लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड: 'काई पो चे'।

मनोरंजन के क्षेत्र में अतुल्य योगदान के लिये 2015 में CNN-IBN अवार्ड से नवाजा गया।

चेतन पर विवाद

चेतन भगत  और इरा त्रिवेदी
चेतन भगत और इरा त्रिवेदी

चेतन भगत का नाम Me too से विवादों में भी रहा। लेखिका और पत्रकार इरा त्रिवेदी ने एक आर्टिकल में अपनी बात को रखते हुए चेतन भगत और सुहेल सेठ पर यौन शोषण का आरोप लगाया है ।इरा ने कहा चेतन ने मेरे लिप्स पर किस करने की कोशिश की । खुद पर लगे ओरोपों को लेकर चेतन भगत ने सफाई दी है । चेतन भगत ने इरा के एक ईमेल का स्क्रीन शॉ शेयर किया था । इस मेल में आखिर में इरा ने लिखा है -'मिस यू किस यू' ।

चेतन के विचार

अब मैं यह कोशिश कर रह हूँ की, पाठकों के लिए प्रत्येक पेज को सम्मोहक बनाऊँ, जिसमें वे पुस्तक में लीन हो जाये।

मुझे यह लगता है कि, मैं मूल आवाजों से मिल पाया, लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात है कि, मुझे तुम्हें बताने के लिए एक कहानी तो चाहिए ही।

जब एक महिला आपके जीवन में आती है तो, चीजें अपने आप संतुलन होने लगती हैं।

एक बुद्धिमान व्यक्ति प्यार में मुर्ख हो सकता है।

मैं दिल से एक पूंजीवादी हूँ और मुझे इस तरह के व्यावसायीकरण से कोई समस्या नहीं है।

मैं विश्वास करता हूँ कि, जब शिक्षा एक लाभदायक व्यवसाय बन जाता है, तो यह ठीक है, लेकिन जब यह भ्रष्ट हो जाता है तो यह ठीक नहीं हैं।

भविष्य 'शब्द' और महिलाओं का एक खतरनाक संयोजन है।